-->

MP ONLINE NEWS

Breaking News

इंदौर: शेर के बाड़े में कूदा युवक, मचा हड़कंप



इंदौर : इंदौर के प्राणी संग्रहालय में उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक युवक ने 18 फिट गहरे शेर के बाड़े में छलांग लगा दी। जब तक गार्ड को इस बात की सूचना मिल पाती तब तक युवक शेर के बाड़े में जा पहुंच। जब युवक कूदा तब शेर मदमस्त तरीके से धूप सेंक रहे थे।  कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय में यह दूसरी घटना है जब कोई व्यक्ति शेर के पिंजरे में कूदा है। हालांकि पूर्व में हुई घटना के बाद प्राणी संग्रहालय प्रबंधन ने शेर के पिंजरे पर लगी जालियों की ऊंचाई बढ़ा दी थी। इसके बावजूद भी गुरुवार को एक युवक द्वारा शेर के बाड़े में कूदने जैसी घटना को अंजाम दे दिया। गनीमत यह रही कि शेर इस दौरान हरकत में नहीं आए और प्राणी संग्रहालय के कर्मचारियों की सतर्कता से युवक की जान बच गई। जिसके बाद प्राणी संग्रहालय कर्मचारियों ने युवक को पुलिस के हवाले कर दिया। बताया जा रहा है कि युवक का नाम कैलाश वर्मा है और वो मानसिक रूप से विक्षिप्त और शराब के नशे में बताया जा रहा है।


 प्राणी संग्रहालय के प्रभारी अधिकारी उत्तम यादव ने बताया कि आज प्राणी और मानव के बीच जो रिश्ता है वह काम आया है प्राणी संग्रहालय के कर्मचारी रोजाना शेरों को भोजन देते हैं | युवक के 18 फीट नीचे कूदने के बाद जब उसे बाहर आने के लिए कहा तो वह शेर के पिंजरे को और अधिक नजदीक जाने लगा जब उसने हमारी एक ना सुनी तो हम ने शेरों को पिंजरे के अंदर डालने की कवायद शुरु की और कर्मचारियों ने आवाज देकर शेरों को पिंजरे के अंदर डाल दिया तब कहीं जाकर युवक को शेर के पिंजरे से बाहर निकाला जा सकता।


प्राणी संग्रालय में यह दूसरी घटना है जब शेर के पिंजरे में कोई कूदा हो प्राणी संग्रालय प्रभारी ने बताया की बात मानसिक रूप से विकलांग लोग इस तरह की हरकत करते हैं हमे सुरक्षा मानकों के हिसाब से व्यवस्थाएं की है लेकिन कोई जान पूछ कर ही शेर की पिंजरे में कूदना चाहता है जिसमें कर्मचारी उन्हें बचाने का प्रयास कर सकते हैं। दिल्ली के प्राणी संग्रहालय में किसी प्रकार की घटना हुई थी जिसमें शेर पिंजरे में जाने वाले व्यक्ति को अपना शिकार बना ही लिया था लेकिन हिंदू प्राणी संग्रहालय को भी ऐसे मानसिक रूप से विकलांग हो शराबी व्यक्ति पर कड़ी निगाह रखनी होगी।


No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com