-->

MP ONLINE NEWS

Breaking News

शिवराज मंत्रिमंडल विस्तार कल...






भोपाल :  चुनावी साल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एक बार फिर अपनी कैबिनेट में विस्तार करने जा रहे हैं। इस विस्तार में पांच विधायकों को मंत्री बनाया जाएगा। कल सुबह साढे नौ बजे राजभवन में पांच मंत्रियों को शपथ दिलाई जा सकती है। कैबिनेट विस्तार को लेकर जीएडी ने तैयारी शुरू कर दी है। गवर्नमेंट प्रेस में कार्ड छपने के लिए भेज दिए गए हैं। कैबिनेट विस्तार को लेकर आज सीएम ने संगठन महामंत्री सुहास भगत और प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान से लंबी मंत्रणा की। मुख्यमंत्री ने आज दोपहर तीन बजे तक का अपना समय रिजर्व रखा था। आज सुबह करीब साढ़े ग्यारह बजे नंदकुमार सिंह और सुहास भगत सीएम हाउस पहुंचे। दोनों नेताओं के साथ सीएम ने लंबी मंत्रणा की। इस मंत्रणा में जिन विधायकों को मंत्री बनाया जाना है उन्हें लेकर बात की गई। इस विस्तार में क्षेत्रीय और जातिगत संतुलन को लेकर भी सीएम और संगठन नेताओं में मंत्रणा हुई। इस विस्तार में मालवा को प्रतिनिधित्व मिलने की संभावना है।

इन मंत्रियों की हो सकती है छुट्टी : लंबे समय से अस्वस्थ चल रहे राज्यमंत्री हर्ष सिंह की मंत्रिमंडल से छुट्टी हो सकती है, इसके अलावा उम्र का हवाला देते हुए पीएचई मंत्री कुसुम सिंह मेहदेले को भी विश्राम दिया जा सकता है। इनकी जगह नए चेहरों को शामिल किया जाएगा।

ये बन सकते हैं मंत्री :  चुनाव के पहले होने वाले मंत्रिमंडल विस्तार में क्षेत्रीय और जातिगत समीकरणों का ख्याल रखा जाएगा। इस लिहाज से अशोकनगर से विधायक गोपीलाल जाटव, मंदसौर जिले से जगदीश देवड़ा या यशपाल सिंह सिसौदिया में से किसी एक के  मंत्री बनने की संभावना है। धार से रंजना बघेल और नीना वर्मा में से किसी एक को मौका मिल सकता है। वहीं विंध्य से केदारनाथ शुक्ला और शंकरलाल तिवारी में से किसी एक को मौका मिल सकता है। ग्वालियर-चंबल से जातिगत समीकरणों को साधने के लिए नारायण सिंह कुशवाह को भी मंत्री बनाया जा सकता है।

इंदौर को प्रतिनिधित्व मिलना तय :  मंत्रिमंडल विस्तार में प्रदेश की औद्योगिक राजधानी इंदौर को प्रतिनिधित्व मिलना तय माना जा रहा है। इंदौर से जिन विधायकों को मंत्री बनाया जा सकता है,उनमें रमेश मेंदोला, सुदर्शन गुप्ता और पूर्व मंत्री महेन्द्र हार्डिया शामिल हैं। इन तीनों में से किसी एक विधायक को मंत्री बनाया जा सकता है। यह पहली दफा है कि मंत्रिमंडल में इंदौर के किसी विधायक का प्रतिनिधित्व नहीं है।

मंत्रियों का जातीय समीकरण
शिवराज मंत्रिमंडल में जातीय समीकरण के अनुसार अन्य पिछड़ा वर्ग के 7, अजा के 3, अजजा के 3, राजपूत 4, ब्राह्मण 6, जैन और बनिया पांच और कायस्थ वर्ग के एक मंत्री है। मंत्रिमंडल में फिलहाल सीएम सहित 20 कैबिनेट और 9 राज्यमंत्री हैं। पांच मंत्रि पद रिक्त हैं।

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com