-->

MP ONLINE NEWS

Breaking News

मीटर रीडरों की हड़ताल से अनूपपुर जिले के बिजली बिल व मीटर रीडिंग की व्यवस्था ठप्प बिजली उपभोक्ता हो रहे परेसान राजस्व वसूली में आ रही भारी कमी

मीटर रीडरों की हड़ताल से अनूपपुर जिले के बिजली बिल व मीटर रीडिंग की व्यवस्था ठप्प

बिजली उपभोक्ता हो रहे परेसान
राजस्व वसूली में आ रही भारी कमी


अनूपपुर-प्रदीप मिश्रा-8770089979
 जिले के अंतर्गत सभी वितरण केंद्र में बिजली बिल व मीटर रीडिंग की व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है| बिजली मीटर वाचकों को अपनी जायज मांग नियमितीकरण को लेकर अनिश्चित कालीन हड़ताल पर चले जाने से बिजली विभाग में मीटर रीडिंग व बिल वितरण जैसे मुख्य कार्य पूरी तरह ठप्प पड़ गई है|विभाग के कार्यपालन अभियंता द्वारा वैकल्पिक व्यवस्था के रूप में स्थाई कर्मचारियों में लाइन मैन व लाइन स्पेक्टर को निर्देशित कर मार्च माह के बिजली बिल बंटवाने को कहा गया था परंतु एक ही कर्मचारी को दो कार्य बिजली मेंटेनेंस व बिल वितरण कर पाना कितना सहज है समझने की बात है | जिससे की मार्च माह का बिजली बिल अप्रेल माह के अंतिम सप्ताह तक उपभोक्ताओं के घर नही पहुच पाया है बिजली बिल के लिए उपभोक्ता बिजली ऑफिस के चक्कर काटते नजर आ रहे है | निश्चित तौर पर जब बिजली बिल उपभोक्ताओं को प्राप्त नही होंगे तो वे बिल का भुगतान समय पर नही करेंगे जिससे विभाग में राजस्व वसूली में भारी कमी आते दिख रही है जिस कारण विभाग को बहुत ज्यादा नुकसान हो रहा है | विभाग के द्वारा मीटर रीडिंग करने के लिए माह के अंतिम सप्ताह में समय निर्धारित किया गया है जो कि अभी तक जिले के कुछ वितरण केंद्र में मीटर रीडिंग नही करवाई गई| बताया जा रहा है कि अब विभाग द्वारा घर बैठे रीडिंग भर कर डायरी जमा करने की तैयारी की जा रही है जिससे  मनमानी रीडिंग लिखे जाने पर बीजली उपभोक्ताओं को अनाप सनाप आये हुए  बिजली बिल का पैसा भर कर भुगतान करना पड़ सकता है| व इन दिनों कार्यपालन यंत्री द्वारा लाइन मैन व लाइन स्पेक्टर की ड्यूटी बिजली बिल बाटने व मीटर रीडिंग में लगा देने से बिजली मेंटेनेंस की व्यवस्था पूरी तरह डगमगा चुकी है |जिससे लाइन कट जाने पर उपभोक्ताओं को घंटों इंतजार करना पड़ रहा है |आपको बता दे कि पूर्व में विभाग द्वारा मीटर वाचक को पद पर रख मीटर रीडिंग व बिल वितरण का कार्य करवाने को लेकर महज सात से आठ हजार रुपये पगार निर्धारित कर कार्य करवाया जाता रहा परन्तु इस माह अनूपपुर वितरण केंद्र में इसी कार्य को करने के लिए स्थाई लाइन मैन जिसका पगार साठ से सत्तर हजार निर्धारित है व साथ मे एक आउटसोर्स ठेका कर्मचारी  को भी रख बिल वितरण व मीटर रीडिंग जैसा कार्य को करवा कर विभाग को भी लाखो रुपयो का चूना लगाया जा रहा है | मीटर वाचकों के हड़ताल से विभाग में राजस्व वसूली में भी बहुत गिरावट आई है |इन सभी समस्या को लेकर बिजली उपभोक्ताओं को परेशानियों से जूझना पड़ रहा है|

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com