-->

Breaking News

मरीना बीच पर करुणानिधि को दफनाने की मद्रास उच्च न्यायालय ने दी अनुमति



चेन्नई : मद्रास उच्च न्यायालय ने द्रमुक प्रमुख एम करुणानिधि को मरीना बीच पर दफनाने की आज अनुमति दे दी। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश एच जी रमेश और न्यायमूर्ति एस एस सुंदर की खंडपीठ ने द्रमुक की एक याचिका पर विशेष सुनवाई कर यह आदेश दिया।
 
अन्नाद्रमुक सरकार ने करुणानिधि को उनके मार्गदर्शक एवं पूर्व मुख्यमंत्री सी एन अन्नादुरई के पास प्रसिद्ध मरीना बीच पर दफनाने की अनुमति देने से इनकार कर दिया था जिसके बाद तमिलनाडु के मुख्य विपक्षी दल ने कल रात अदालत का दरवाजा खटखटाया।
 
इससे पहले अदालत ने आज जैसे ही द्रमुक की याचिका पर सुनवाई शुरू की तो मरीना पर पूर्व मुख्ममंत्री दिवंगत जे जयललिता को दफनाने को चुनौती देने वाली सभी पांच याचिकाएं खारिज कर दी।
 
सरकार ने द्रमुक के दिग्गज नेता को मरीना बीच पर दफनाने की अनुमति ना देने के लिए इन याचिकाओं का हवाला दिया था।     अपने फैसले का बचाव करते हुए राज्य सरकार ने कहा कि जब करुणानिधि के नेतृत्व में द्रमुक सरकार थी तो उसने यह कहते हुए दिवंगत मुख्यमंत्री एम जी रामचंद्रन की पत्नी जानकी को वहां दफनाने की अनुमति देने से इनकार कर दिया था कि वह मौजूदा मुख्यमंत्री नहीं थीं।



--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com