-->

Breaking News

सेमरिया (रीवा) की धरती में जली नये SC/ST एक्ट के विरोध की चिन्गारी



रीवा (सेमरिया) : केन्द्र सरकार के नये एस, सी, एस, टी, एक्ट के विरोध में आंदोलन की रणनीति बनाये जाने के तारतम्य में जातिगत आरक्षण एवं SC/ST एक्ट, विरोधी एकता मन्च सेमरिया का सम्मेलन विन्ध्य धरा के रीवा जिले के प्रख्यात स्वतन्त्रता संग्राम सेनानी एवं पूर्व सांसद पंं,यमुना प्रसाद शास्त्री जी की कर्म भूमि सेमरिया की धरती में शिव उत्सव पैलेस में सम्पन्न हुआ।  

सम्मेलन में काफी संख्या में सामान्य, पिछड़ा, अल्पसंख्यक समाज के जनों ने लिया हिस्सा। सम्मेलन में रीवा संभाग के अलावा जबलपुर संभाग के सपाक्स पदाधिकारी एवं सवर्ण समाज पार्टी के राष्ट्रीय  पदाधिकारियों ने दर्ज कराई अपनी उपस्थिती।  

सम्मेलन की अध्यक्षता सेमरिया अन्चल के वरिष्ठ अधिवक्ता गंगा प्रसाद मिश्रा, जबकि मुख्य अतिथि के रूप में सपाक्स समाज के प्रान्तीय संयोजक पी, एस, परिहार जी ने लिया हिस्सा।

सम्मेलन का संचालन अधिवक्ता श्याम सुन्दर तिवारी तथा मार्गदर्शन    तहसील अधिवक्ता संघ सिरमौर के अध्यक्ष, वरिष्ठ अधिवक्ता हेमराज पाण्डेय ने किया। 

जातिगत आरक्षण एवं SC/ST विरोधी एकता मन्च सेमरिया के संरक्षक  अरूण प्रताप सिंह, मुखिया ने सम्मेलन में हिस्सा लेने वाले सभी के प्रति जताया आभार।  SC/ST एक्ट के विरोध की चिन्गारी सेमरिया की धरती से शुरू हुई जो पूरे देश तक पहुंच कर केन्द्र की सरकार को इस काले कानून को वापस लेने को कर देगी बाध्य वशर्ते सामान्य, पिछड़ा, अल्पसंख्यक समाज के लोग कदम से कदम मिलाकर पूरी ताकत के साथ लड़े जंग। 

सम्मेलन को सम्बोधित किया सवर्ण समाज पार्टी के संस्थापक राष्ट्रीय अध्यक्ष राम रूचि शुक्ला, सवर्ण समाज पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री के, के तिवारी,राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राजेश मिश्रा, सपाक्स के जिला अध्यक्ष इन्जीनियर देवेन्द्र सिंह, सपाक्स समाज के जिला अध्यक्ष विनोद पटेल, सपाक्स समाज के जिला उपाध्यक्ष हिमांशु शुक्ला, संजय सिंह चन्देल, सपाक्स के सेमरिया ईकाई अध्यक्ष आशीष श्रीवास्तव,  राम निहोर चतुर्वेदी, अर्जुन प्रसाद श्रीवास्तव, सौखी लाल तिवारी, अधिवक्ता राज कुमार पाण्डेय,वरिष्ठ पत्रकार शिव प्रसाद शर्मा, सुरेश तिवारी आदि ने।





No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com