-->

MP ONLINE NEWS

Breaking News

अटल जी के लिए सोनिया गांधी सहित अन्य देश के प्रधानमंत्री एवं नेताओं ने कहा...



नई दिल्ली : पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को उनके घर पर श्रद्धांजलि दी। सोनिया गांधी ने वाजपेयी के निधन पर कहा कि मैं श्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन से बहुत दुखी हूं। श्री वाजपेयी एक बड़ी शख्सियत थे। पूरी जिंदगी वह लोकतांत्रिक मूल्यों के लिए खड़े रहे। यह प्रतिबद्धता उनके हर काम में परिलक्षित होती थी, चाहे वह सांसद रहे, कैबिनेट मंत्री या भारत के प्रधानमंत्री।

आडवाणी और जोशी ने वाजपेयी को दी श्रद्धांजलि
सीनियर लीडर लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी ने अटल बिहारी वाजपेयी को दी श्रद्धांजलि। आडवाणी ने अटल के निधन पर कहा कि मेरे लिए अटल जी एक वरिष्ठ सहयोगी से अधिक थे- वास्तव में वह 65 से अधिक वर्षों से मेरे सबसे करीबी दोस्त थे।

दु:ख की इस घड़ी में पाकिस्तान भारत के साथ खड़ा है: इमरान खान
पाकिस्तान के भावी प्रधानमंत्री और पूर्व क्रिकेटर इमरान खान ने भारत के पूर्व प्रधानमंत्री के देहांत पर शोक व्यक्त करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा, दु:ख की इस घड़ी में पाकिस्तान भारत के साथ खड़ा है। भारत-पाकिस्तान के बीच संबंधों की बेहतरी के लिए किए गए उनके प्रयास को हमेशा याद रखा जाएगा। उनके देहांत से दक्षिण एशिया की राजनीति में एक शून्य पैदा हो गया है। दोनों देशों के बीच राजनीतिक मतभेद हो सकते हैं लेकिन सीमाओं पर शांति की चाह बनी रहेगी। ​

नेपाल के पीएम ने कहा- वाजपेयी जी एक दूरदर्शी नेता थे
नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने संदेश भेजकर अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने लिखा, भारत के पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन की खबर पाकर मुझे गहरा दु:ख हुआ। दिवंगत वाजपेयी जी एक दूरदर्शी नेता थे। उन्हें बुद्धिमत्ता और बगैर किसी स्वार्थ के भारत के लोगों की सेवा करने के लिए हमेशा याद किया जाएगा।'

उद्धव ठाकरे ने दी श्रद्धांजलि
शिव सेना चीफ उद्धव ठाकरे ने पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी को दिल्ली में उनके आवास पर दी श्रद्धांजलि।
श्रद्धांजलि देने पहुंचे राजनाथ सिंह और सुषमा स्वराज
अटल बिहारी वाजपेयी के निवास पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने दी उन्हें श्रद्धांजलि।
अटल बिहारी वाजपेयी भारत के सच्चे सपूत थे: शेख हसीना
अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने शोक प्रकट किया। शेख हसीना ने कहा कि भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के गुजर जाने की खबर से बहुत आहत हूं। वे भारत के एक सच्चे सपूत थे। वे सुशासन में अपनी विलक्षण योगदान के लिए याद किए जायेंगे साथ ही देश की जनता के आम मुद्दों और क्षेत्रीय शांति के लिए काम करने के तौर पर हमेशा याद किए जायेंगे।

लोकतांत्रिक इतिहास में अटल जैसा व्यक्तित्व मिलना कठिन: योगी आदित्यनाथ
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि वे लोकप्रिय और सर्वमान्य नेता थे, जिनका सभी सम्मान करते थे। भारत के लोकतांत्रिक इतिहास में अटल जैसा विराट व्यक्तित्व मिलना कठिन है। उनका 6 दशक का निष्कलंक राजनैतिक जीवन हमेशा याद किया जाएगा। अटल ने राजनीति को मूल्यों और सिद्धांतों से जोड़कर देश में सुशासन की आधारशिला रखी थी।
योगी ने कहा कि एक ओजस्वी वक्ता और प्रखर सांसद के रूप में अटल की विशिष्ट पहचान थी। भारतीय संसद की गौरवशाली परंपराओं को समृद्ध करने के लिए अटल को सर्वश्रेष्ठ सांसद का पुरस्कार भी प्रदान किया गया था।

हमने भारतीय आकाश के ध्रुव तारे को खो दिया: अमित शाह
बीजीपी अध्यक्ष अमित शाह ने पूर्व प्रधानमंत्री के निधन पर दुख जताते हुए कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के साथ हमने भारतीय आकाश के ध्रुव तारे को खो दिया है। वह बहुआयामी थे। देश ने एक बड़ा नेता और बीजेपी ने अपना पहला राष्ट्रीय अध्यक्ष खो दिया। साथ ही करोड़ों युवाओं ने अपनी प्रेरणा खो दी। इस शून्य को भरना असंभव है।

शुक्रवार को 1 बजे शुरू होगी अंतिम यात्रा ​
अटल बिहारी वाजपेयी का पार्थिव शरीर शुक्रवार सुबह 9.30 बजे भाजपा कार्यालय में अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा। उनकी अंतिम यात्रा दोपहर 1 बजे शुरू होगी और शाम को 4 बजे उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। दिल्ली में स्मृति स्थल के पास करीब डेढ़ एकड़ जमीन पर उनका स्मारक बनाया जाएगा।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर शोक जताते हुए कहा कि उनके जाने से देश को बहुत बड़ी क्षति हुई है। ममता ने ट्वीट किया, 'यह जानकर बहुत दुखी हूं कि एक महान राजनेता और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी हमारे बीच नहीं रहे।' ममता ने कहा, 'उनका गुजरना हमारे देश के लिए बहुत बड़ी क्षति है। मैं हमेशा उनके साथ गुजारे कई यादगार पलों का आनंद लेती रहूंगी। मैं उनके परिवार और उनके प्रशंसकों के प्रति शोक व्यक्त करती हूं।'

भारत ने अपना महान सपूत खो दिया: प्रणब मुखर्जी
भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर कहा कि भारत ने अपना महान सपूत खो दिया। उन्होंने कहा, 'श्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन से बेहद दुखी हूं। विपक्ष में एक तर्कसंगत आलोचक और प्रधानमंत्री के रुप में आम सहमति के एक साधक, अटल जी दिल से लोकतांत्रिक थे। उनके जाने से भारत ने अपना महान बेटा खो दिया और एक युग का अंत हो गया। मैं गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं।'

अटल जी ने अपना पूरा जीवन देश की सेवा में समर्पित कर दिया: बीसीसीआई
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने पूर्व प्रधानमंत्री के निधन पर शोक जताया। बीसीसीआई ने अपने एक बयान में कहा, 'भारतीय क्रिकेट टीम और बीसीसीआई को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन का दुख है। अटल जी ने अपना पूरा जीवन देश की सेवा में समर्पित कर दिया।'
भारत ने जनता के नेता अटल जी खो दिया :मनोहर पर्रिकर
गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल विहारी वाजपेयी के निधन पर शोक जताया है। पर्रिकर इस समय कैंसर के इलाज के लिए अमेरिका में हैं। उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'अटल जी के निधन से गहरा दुख हुआ है। भारत ने एक महान नेता, जनता के नेता और दूरदर्शी खो दिया है, जिन्होंने अपना पूरा जीवन देश और लोगों की सेवा में समर्पित किया।'

अटल जी का जाना व्यक्तिगत नुकसान है :फडणवीस
पूर्व प्रधानमंत्री के देहांत पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा, 'वह हमारे साथ शारीरिक रूप से भले न हों लेकिन उनकी विजन हमेशा हमारे साथ रहेगा। ऐसे व्यक्ति को खोना जिस की ओर हम हमेशा देखते थे यह हम सभी के लिए व्यक्तिगत नुकसान है। मुझे यकीन है कि हम हमेशा उनकी विचारधारा से प्रेरणा लेंगे।'

अटल बिहारी वाजपेयी 65 वर्षों से मेरे करीबी दोस्त: लालकृष्ण आडवाणी
अटल बिहारी के निधन पर पूर्व उपप्रधानमंत्री और बीजेपी के सीनियर लीडर लालकृष्ण आडवाणी ने कहा, 'भारत के सबसे बड़े राजनेता अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर हम सभी शोक व्यक्त कर रहे हैं लेकिन मेरे पास अपना गहरे दुःख और उदासी व्यक्त करने के लिए शब्द नहीं हैं। मेरे लिए अटल जी एक वरिष्ठ सहयोगी से अधिक थे- वास्तव में वह 65 से अधिक वर्षों से मेरे सबसे करीबी दोस्त थे।

अटल बिहारी वाजपेयी को लोग सप्रेम याद करेंगे :रतन टाटा
टाटा संस के चेयरमैन रतन टाटा ने पूर्व प्रधानमंत्री के देहांत पर पर दुख व्यक्त करते हुए कहा, 'हम सभी जो श्री अटल बिहारी वाजपेयी को जानते थे, वे उनके गुजरने की खबर सुनकर दुखी हैं। वह करुणा और हास्य की भावना के साथ एक महान नेता थे। उन्हें लोग सप्रेम याद करेंगे।'

अटल जी सरल व्यक्ति थे उन्हें जरा भी अहंकार नहीं था :मुलायम सिंह
वाजपेयी के निधन पर मुलायम सिंह यादव बोले,'देश के लिए यह एक बड़ा नुकसान है। वह वरिष्ठ नेता होने के बावजूद एक बहुत ही सरल व्यक्ति थे। उनमें जरा भी अहंकार नहीं था। आद रे नेताओं को उनसे बहुत कुछ सीखने की जरूरत है।'

जनता दर्शन के लिए भाजपा कार्यालय में रखा जाएगा पार्थिव शरीर
अटल बिहारी वाजपेयी का पार्थिव शरीर कल जनता दर्शन के लिए दिल्ली में भाजपा कार्यालय में रखा जाएगा।

अटल बिहारी वाजपेयी महान प्रधानमंत्री थे :मनमोहन सिंह
पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने वाजपेयी के गुजर जाने पर गम का इजहार किया। मनमोसिंह ने कहा, 'मुझे भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी जी के निधन के बारे में जानकर गहरा दुख हुआ। वह एक लाजवाब वक्ता, प्रभावशाली कवि, असाधारण पब्लिक सर्वेंट, बेहतरीन संसद और एक महान प्रधानमंत्री थे।'

वाजपेयी के निवास स्थान पर ले जाया जाएगा उनका पार्थिव शरीर
अटल बिहारी वाजपेयी के देहांत पर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, 'अटल जी नहीं रहे यह हमारे लिए बहुत दुखद क्षण है। थोड़ी देर में उनका पार्थिव शरीर उनके निवास स्थान पर ले जाया जाएगा जहां लोग श्रद्धांजलि अर्पित कर सकते हैं।'

अटलजी को सभी याद करेंगे :राष्ट्रपति
राष्ट्रपति रामनाम कोविंद ने वाजपेयी के निधन पर शोक जताते हुए कहा, 'हमारे पूर्व प्रधानमंत्री और एक सच्चे भारतीय राजनेता श्री अटल बिहारी वाजपेयी के जाने से बेहद दुखी हूं। उनके नेतृत्व, दूरदर्शिता, परिपक्वता और वाक्पटुता ने उन्हें एक अलग मुकाम पर पहुंचाया। अटलजी को सभी याद करेंगे।'

7 दिन का राजकीय शोक घोषित
केंद्र सरकार ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर 7 दिन का राजकीय शोक घोषित किया है।


वाजपेयी राजनीतिक फलक पर चमकते सितारे थे :उपराष्ट्रपति
भारत के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने पूर्व प्रधानमंत्री की निधन पर गम का इजाहर किया। उपराष्ट्रपति ने कहा कि श्री अटल बिहार वाजपेयी भारत के राजनीतिक फलक पर चमकते सितारे थे। उन्होंने वाजपेयी को भारत का मित्रवत और लोगों द्वारा पसंद किए जाने वाला प्रधानमंत्री बताया। उपराष्ट्रपति ने आगे कहा कि उनके जाने से भारत ने एक बहुआयामी 'रत्न' खो दिया है।

भारत ने एक महान बेटे को खो दिया: राहुल गांधी
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अटल बिहारी वाजपेयी के देहांत पर शोक प्रकट करते हुए कहा, 'भारत ने आज एक महान बेटे को खो दिया। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी को चाहने वाले लोगों की संख्या लाखों में थी। उनके परिवार और उसके सभी प्रशंसकों के प्रति मेरी संवेदनाएं। हम उन्हें याद करेंगे। हम उनकी कमी महसूस करेंगे।'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जताया शोक
पीएम मोदी ने एक और ट्वीट में अटल बिहारी वाजपेयी से प्रेरणा लेने की बात कही। मोदी ने लिखा, 'अटल जी आज हमारे बीच में नहीं रहे, लेकिन उनकी प्रेरणा, उनका मार्गदर्शन, हर भारतीय को, हर भाजपा कार्यकर्ता को हमेशा मिलता रहेगा। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे और उनके हर स्नेही को ये दुःख सहन करने की शक्ति दे। ओम शांति!'
इसके अलावा पीएम मोदी ने वाजपेयी की एक कविता का भी अंश शेयर किया। पीएम ने अन्य ट्वीट में लिखा, 'लेकिन वो हमें कहकर गए हैं- 'मौत की उमर क्या है? दो पल भी नहीं, ज़िन्दगी सिलसिला, आज कल की नहीं मैं जी भर जिया, मैं मन से मरूं, लौटकर आऊँगा, कूच से क्यों डरूं?'
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि उनका जाना, एक युग का अंत है। पीएम मोदी ने कहा, 'मैं नि:शब्द हूं, शून्य में हूं, लेकिन भावनाओं का ज्वार उमड़ रहा है। हम सभी के श्रद्धेय अटल जी हमारे बीच नहीं रहे। अपने जीवन का प्रत्येक पल उन्होंने राष्ट्र को समर्पित कर दिया था। उनका जाना, एक युग का अंत है।'

एम्स ने बुलेटिन जारी कर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन की सूचना दी। वाजपेयी ने गुरुवार शाम को 5 बजकर 5 मिनट मिनट पर अंतिम सांस ली।

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com