-->

Breaking News

उच्च शिक्षा में उल्लेखनीय योगदान के लिए आईजीएनटीयू के कुलपति प्रो. कटटीमनी को मुंबई में वाग्धारा सम्मान

उच्च शिक्षा में उल्लेखनीय योगदान के लिए आईजीएनटीयू

के कुलपति प्रो. कटटीमनी को मुंबई में वाग्धारा सम्मान

अमरकटंक / प्रदीप मिश्रा - 8770089979

उच्च शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान देने के लिए मुंबई विश्वविद्यालय के हिंदी विभाग और महाराष्ट्र की प्रतिष्ठित साहित्यिक संस्था वाग्धारा द्वारा संयुक्त रूप से इंदिरा गांधी राष्ट्रीय जनजातीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. टी.वी. कटटीमनी को वाग्धारा नवरत्न सम्मान से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर प्रो. कटटीमनी ने उच्च शिक्षा को सामाजिक और आर्थिक विकास का आधार बताते हुए इसके व्यापक प्रसार पर जोर दियज्ञं सांताक्रूज स्थित कालीना कैंपस में आयोजित भव्य व्यंग्य महोत्सव के अवसर पर प्रो. कटटीमनी सहित विभिन्न क्षेत्रों की नौ प्रमुख हस्तियों को सम्मानित किया गया। प्रो. कटटीमनी ने विश्वविद्यालय के कुलपति के रूप में आर्थिक रूप से पिछड़े वर्गों विशेषकर मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के छात्रों को उच्च शिक्षा के लिए निरंतर प्रोत्साहित कर उनके सामाजिक स्तर को बदलने में अहम योगदान दिया। विश्वविद्यालय में उच्च शिक्षा और सामाजिक कार्यक्रमों से संबंधित अनूठे प्रयोगों के माध्यम से उन्होंने छात्रों को शिक्षा के साथ अनुसंधान और समाज में स्वयं के रचनात्मक योगदान के लिए प्रेरित किया। इन्हीं योगदान के लिए उन्हें प्रतिष्ठित पुरस्कार के लिए चयनित किया गया। दो दिवसीय मुंबई व्यंग्य महोत्सव का उद्घाटन करते हुए प्रो. कटटीमनी ने व्यंग्य को जीवन का अभिन्न अंग बताया और इसके रंग में मुंबई को रंगने के लिए आयोजकों को धन्यवाद दिया। उनका कहना था कि पश्चिमी जीवन शैली से तनाव और अवसाद अधिक उत्पन्न हो रहा है ऐसे में व्यंग्य को भी जीवन में अपनाने की आवश्यकता है। कार्यक्रम में दो दिनों तक साहित्य और व्यंग्य के विभिन्न आयामों पर देशभर की प्रमुख हस्तियों ने मंथन भी किया। प्रो. कटटीमनी के अलावा व्यंग्यकार डॉ. सूर्यबाला, कथाकार-कार्टूनिस्ट आबिद सुरती, रंगकर्मी पद्मश्री निरंजन गोस्वामी, वरिष्ठ पत्रकार विश्वनाथ सचदेव, फिल्मकार अविनाश दास, तबला वादक पंडिता अनुराधा पाल, कवि रवि यादव और पत्रकार राजीव खांडेकर को भी वाग्धारा नवरत्न सम्मान प्रदान किया गया। कार्यक्रम में डॉ. वागीश सारस्वत सहित कई प्रमुख साहित्यकार उपस्थित थे।

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com