-->

Breaking News

मुंशी प्रेमचंद की रचनाओं ने राष्ट्रीय चेतना को जगाया आईजीएनटीयू में जयंती पर कार्यक्रम, हिंदी साहित्य में अहम योगदान के लिए याद किए गए

मुंशी प्रेमचंद की रचनाओं ने राष्ट्रीय चेतना को जगाया

आईजीएनटीयू में जयंती पर कार्यक्रम, हिंदी साहित्य में अहम योगदान के लिए याद किए गए

अनूपपुर/ प्रदीप मिश्रा - 8770089979

हिंदी साहित्य की अमूल्य निधि मुंशी प्रेमचंद की जयंती पर इंदिरा गांधी राष्ट्रीय जनजातीय विश्वविद्यालय के हिंदी विभाग के तत्वावधान में विगत दिवस कार्यक्रम आयोजित कर उनके व्यक्तित्व और कृतित्व पर प्रमुख शिक्षाविदों ने प्रकाश डाला। इस अवसर पर छात्रों का आह्वान किया गया कि वे मुंशी प्रेमचंद के राष्ट्रीय चेतना को जगाने वाले साहित्य को आत्मसात कर सामाजिक विकास में अहम योगदान दे। मुख्य अतिथि डॉ. राधेश्याम शुक्ल ने साम्राज्यवाद के दौर में साहित्य लेखन की चुनौतियों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि मुंशी जी की रचनाओं में राष्ट्रीय चेतना रेखांकित होती है। उन्होंने मुंशी प्रेमचंद की पहली कहानी दुनिया का सबसे अनमोल रत्न का सरस पाठ भी किया। संकायाध्यक्ष प्रो. खेमसिंह डहेरिया ने मुंशी प्रेमचंद के उपन्यासों में व्यक्त किसानों की जीवन शैली और उसकी वर्तमान प्रासंगिकता के बारे में बताया। विभागाध्यक्ष प्रो. रेनू सिंह ने प्रेमचंद के चिंतन और उनके आध्यात्मिक सामाजिक दृष्टिकोण के बारे में जानकारी प्रदान की। डॉ. वीरेंद्र प्रताप ने प्रेमचंद के वैचारिक लेखन समकालीन संदर्भ में प्रस्तुत किया। इस अवसर पर प्रो. तीर्थेश्वर सिंह, डॉ. आशुतोष कुमार सिंह, डॉ. जितेंद्र कुमार सिंह, डॉ. प्रवीन कुमार आदि ने भाग लिया। संचालन नंदिनी जायसवाल ने किया, धन्यवाद रेशम सोनकर ने दिया।


No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com