-->

Breaking News

JABALPUR NEWS : एक साथ उठी 6 अर्थियां संस्कारधानी में एक अनूठा आरक्षण का विरोध हुआ



जबलपुर : आरक्षण के विरोध में अब तक का अनूठा आंदोलन जिसमे केंद्र की पुववर्ती आरक्षण को समर्थन देने वाली सरकारों व आरक्षण के निर्माता की 6 अर्थियों की शवयात्रा निकालकर विरोध प्रदर्शन राष्टीय आरक्षण पीड़ित वर्ग मोर्चा के द्वारा संस्कारधानी में किया गया। मोर्चा के संयोजक पंडित खम्परिया ने बताया कि जब तक केंद्र की सरकार जातिगत आरक्षण को समाप्त नहीं करती व आर्थिक आधार पर सभी जातियों को आरक्षण नही देती तब तक यह आंदोलन निरंतर चलता रहेगा और अब इस आंदोलन की उग्रता मराठा आंदोलन जिस प्रकार से महाराष्ट्र में उग्रता प्रदर्शित कर रहा है अब प्रदेश में भी इसी प्रकार की उग्रता राज्य सरकार को दिखेगी। 




मोर्चा के प्रभारी दीपक पचौरी ने कहा कि वर्तमान में विधायक और सांसद सवर्णों के विरोधी हैं जो सवर्णो की आवाज़ को दबाना चाहते हैं इसलिए अब आगामी विधानसभा व लोकसभा में सवर्ण बाहुल्य क्षेत्र में पंडित अमित खम्परिया को प्रत्याशी बनाकर विधानसभा में भेजकर सवर्णों की आवाज़ को बुलंद किया जाएगा । आनंद मोहन पाठक ने कहा कि उक्त आंदोलन जातिगत आरक्षण को समाप्त करने की दिशा में मील का पत्थर साबित होगा। अब सरकारों को जागना होगा सवर्ण स्वयं में शक्ति है जिसकी बात को दरकिनार अब नही किउल जा सकता। सुधीर नायक ने कहा कि अब युवा, महिला व जनसामान्य जाग उठा है आज का यह प्रदर्शन हज़ारों की संख्या में लेबर चौक से 6 अर्थियों को उठाकर शवयात्रा के रूप में जिसमे विधि विधान से पूजन कर रानीताल चौक पर दाह संस्कार किया गया, निश्चित रूप से सरकार तक यह आवाज़ पहुंचेगी की अब सवर्ण जाग चुका है । पुष्पा तिवारी ने कहा कि सवर्णो की आवाज़ को अब दबाया नही जा सकता, मोर्चा के द्वारा प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों में इसी प्रकार से विरोध प्रदर्शन कर प्रदेश और केंद्र की सरकार को चेताया जाएगा। आज के कार्यक्रम में धनञ्जय वाजपेयी, अरुण मिश्रा, संदीप दुबे, आनंद ज्योतिषी, चंद्रप्रकाश भटनागर , सुधाकर मिश्रा, मिथलेश तिवारी, सीमा मिश्रा, शोभना ठाकुर, ऊषा पटेल, वनीता मालवीय, यदुवंश मिश्रा, देवेंद्र सोनी, निकष वैद्य, सचिन दुबे, हुकुमचंद पटेल, आदित्य खम्परिया, विकास नरवरिया, अनुज पाठक,गुन्दू अन्ना, पुरषोत्तम पांडे, दीपक सिंह परिहार, मुकेश दुबे, ओमप्रकाश पांडे, आनंद भोपाटक आदि उपस्थित हुए।

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com