-->

MP ONLINE NEWS

Breaking News

REWA NEWS : कांग्रेस विधायक सुंदरलाल तिवारी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को कहा 'वैश्या'



रीवा। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को कांग्रेस गुढ़ विधायक सुंदरलाल तिवारी ने पत्रकारवार्ता में वैश्या कहा है। उन्होंने कहा कि जिस तरह वैश्या अपनी आत्मा बेचती है। उसी तरह प्रदेश के मुख्यमंत्री वोट के लिए अपनी आत्मा बेचकर वैश्या का काम कर रहे हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि व्यापमं मामले में अगर मुख्यमंत्री को सजा नहीं होती है तो यह माना जाएगा कि प्रदेश में सिर्फ कानून व नियम गरीबों के लिए है। क्योंकि बिना मुख्यमंत्री की सहमति व्यापमं जैसा घोटाला संभव नहीं है।

अपने निज निवास में पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री जन कल्याण संबल योजना 2018 लागू किया है। इसमें पंचायत स्तर में प्रत्येक वार्ड में 5 सदस्यीय निगरानी समिति का गठन किया गया है। इसमें प्रभारी मंत्री द्वारा जिले के सदस्यों को नामांकित करना है। इस आदेश में प्रशासन को किनारे करते हुए ग्राम पंचायत स्तर में जो समिति पंचायतों में गठित की गई है।

इन सभी समितियों में पंचायत स्तर पर भाजपा के सदस्यों को शामिल किया गया है। इसी तरह ग्राम पंचायत में मंडली गठित की गई है। इन मड़लियों को पच्चीस- पच्चीस हजार रुपए प्रदान किए जाने हैं लेकिन इन ग्राम पंचायत में मंडलियों का गठन भी प्रभारी मंत्री द्वारा किया जाना है। इस तरह भाजपा व प्रदेश के मुख्यमंत्री मतदान जुटाने के लिए वैश्या की तरह काम कर रहे हैं।

सुरक्षित नहीं है बेटियां
प्रदेश में भाजपा सरकार के कार्यकाल में सबसे अधिक बेटियों के साथ दुष्कर्म की घटनाएं हुई हैं लेकिन सरकार इन्हें रोक पाने में विफल रही है। साथ ही जो १२ साल से कम उम्र की किशोरी से दुष्कर्म करने पर फांसी की सजा का जो कानून बनाया है उसके भी पुर्नविचार की आवश्यकता है। सरकार ने यह कानून जल्दबाजी में लाया है। इससे दुष्कर्म की घटनाएं नहीं रुक सकेंगी।

भाजपा वोट के लिए करती है धंधा
कांग्रेस गुढ विधायक ने कहा कि बेरोजगार व गरीबों में भाजपा को वोट का धंधा दिखाई देता है। यही कारण है वह मतदान के दौरान इन मतदाताओं को थोड़ा सा लाभ देकर अपने पक्ष में मतदान कराती हैं। इसके बाद मनमर्जी कानून चलाया जाता है। यही कारण है कि देश की सर्वोच्च संस्था सुप्रीम कोर्ट के जजों को सामने आकर हो रहे अन्याय के खिलाफ बोलना पड़ा है।



===================================================================================================================

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com