-->

Breaking News

दुर्गा प्रतिमा विसर्जन को लेकर पुलिस से विवाद, पथराव, आगजनी, लाठीचार्ज

जबलपुर : शहर की मन्नत वाली महाकाली के विसर्जन को लेकर समिति के लोग पुलिस से उस समय भीड़ गए जब ट्रक ड्राइवर ने नशे की हालत में ट्रक को तेज गति से चला दिया जिससे पुलिस कर्मी बाल बाल बच गए| इतना ही नहीं काली समिति के लोग उस समय और उग्र हो गए जब नर्मदा में उन्हें पुलिस ने हाईकोर्ट का हवाला देते हुए विसर्जन करने से रोक दिया|  नर्मदा में मूर्ति विसर्जन के रोके जाने से जुलुस में शामिल सैकड़ो लोग इतने नाराज हुए कि पुलिस पर ही भारी पथराव कर दिया|  जिससे कई पुलिस कर्मी घायल हो गए, इतना ही नहीं जुलुस में शामिल लोगो ने कई पुलिस की गाड़ियों को पलटा दिया और उसमे आग लगा दी | इधर पुलिस ने भी उग्र भीड़ को तितर बितर करने आंसू गैस के गोले दागे जिससे इलाके में भगदड़ मच गई|

सुबह सुबह हुई इस घटना ने पूरी संस्कारधानी को झकझोर दिया|  इलाके में रहने वाले लोग अपने ही घरो में कैद होकर रह गए थे| आपको बता दे की गढ़ा फाटक की महाकाली मन्नत वाली महाकाली के नाम से जानी जाती है | जिनका विसर्जन करने कल तीन बजे जुलुस के रूप में गढ़ा फाटक से निकली थी जो रात भर का सफर कर सुबह ग्वारीघाट पहुंची जहा पर आज ये विवाद हो गया | फिलहाल मौके पर पहुंचे कलेक्टर एसपी ने मोर्चा संभालते हुए महाकाली की मूर्ति का अपनी निगरानी में कुंड में ही विसर्जन करवाया आगे समिति के लोगो को चिन्हित कर उन पर आगजनी करने का मामला दर्ज करने की तैयारी है|

दरअसल हाई कोर्ट ने प्रतिमा विसर्जन को लेकर आदेश जारी किया है कि नर्मदा नदी में मूर्तियों का विसर्जन नहीं होगा। इसके लिए अलग से एक कुंड बनाया गया है, जिसमें विसर्जन होना था। लेकिन इसके बावजूद समिति ने आज सुबह ग्वारीघाट में प्रतिमा विसर्जन की कोशिश की, जिसके बाद हालात बिगड़ गए।  यहां पत्थरबाजी शुरू हो गई। जिसमें कई गाड़ियां फूट गई हैं। उपद्रवियों ने पुलिस की गाड़ियां भी फोड़ डाली हैं। जिसके बाद पुलिस ने भी लाठचार्ज कर दिया, जिसमे कई घायल हुए हैं| पुलिस ने पथराव करने वाले दो दर्जन से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया है। वहीं समिति से जुड़े लोगों के खिलाफ भी पुलिस ने एफआईआर दर्ज करने की बात कही है।

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com