-->

Breaking News

हाथियों का दल फसलो को नुकसान कर बढ़ा आगे वन विभाग की नजर


हाथियों का दल फसलो को नुकसान कर बढ़ा आगे वन विभाग की नजर

अनूपपुर। प्रदीप मिश्रा - 8770089979

वनमंडल अनूपपुर के वन परिक्षेत्र कोतमा में 15 अक्टूबर की सुबह से मलगा के जंगल में रहवास बनाए 16 हाथियों का दल छठवें दिन मलगा बीट के लक्ष्मण धारा में अब अपना स्थायी रहवास बना लिया है। इन हाथियों के दल ने सैतिनचुआ गांव में जंगल के किनारे स्थित खेतों में लगे धान की फसल को अपना आहार बनाते हुए अधिक मात्रा में उसे नुकसान भी पहुंचाया। जबकि सुबह होते ही पुन: मलगा बीट के कुंडी लक्ष्मणधारा की ओर चले गए। इसी तरह 18 अक्टूबर की सुबह छत्तीसगढ़ की सीमा लांघकर 17 हाथियों का एक अन्य दल जैतहरी वनपरिक्षेत्र पहुंच गया। हाथियों के दल ने दो दिनों में परिक्षेत्र जैतहरी के गढिया टोला बीट के ग्राम खालबहरा, मुंडा, आमाडांड, लपटा, निगौरा, कल्याणपुर, धनगवां, कुसमहाई, रोहिला कछार, पटौरा, महुदा के छकडि़या टोला से सोन नदी पर रेलवे के पुल को पार करते हुए वन परिक्षेत्र अनूपपुर के सोन मौहरी एवं दैखल पश्चिम बीट के ग्राम सोन मौहरी, छुलकारी, बिजौडी होते हुए ठूठी के जंगल आरएफ 411 में अब विचरण करता दिख रहा है। इस दौरान हाथियों के झुंड ने सभी ग्रामों के खेतों में लगी धान की फसलों को आहार बनाते हुए रास्ते में आने वाले फसल को नुकसान भी पहुंचाया है। हाथियों के दो दलों के ग्रामीण इलाकों में विचरण करने की घटना पर मुख्य वन रक्षक एके जोशी, वन मंडलाधिकारी जेएस भार्गव स्वयं हाथियों के विचरण क्षेत्र का भ्रमण कर वन विभाग के कर्मचारियों की ड्यूटी लगा रहे हैं।

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com