-->

Breaking News

अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने ली सुशासन शपथ भारत रत्न स्वर्गीय श्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा स्थापित सुशासन के उच्चतम मापदंडो का किया स्मरण

अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने ली सुशासन शपथ

भारत रत्न स्वर्गीय श्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा स्थापित सुशासन के उच्चतम मापदंडो का किया स्मर

अनूपपुर / प्रदीप मिश्रा -8770089979
भारत रत्न एवं पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा स्थापित सुशासन के उच्चतम मापदंडो के महत्व को प्रतिपादित करते हुए उनके जन्मदिवस 25 दिसम्बर के एक दिन पूर्व 24 दिसम्बर को कलेक्ट्रेट सभागार में श्री वाजपेयी जी की प्रतिमा के समक्ष माल्यार्पण कर उनके आदर्शों को याद किया गया इस अवसर पर अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने सुशासन के उच्चतम मापदंडो को स्थापित करने के लिए सदैव संकल्पित रहने, शासन को अधिक पारदर्शी, जवाबदेह, सहभागी एवं जनकल्याण केंद्रित बनाने के लिए प्रयासरत रह प्रदेश के नागरिकों के जीवन स्तर में सुधार लाने के लक्ष्य को पाने के लिए सदैव तत्पर रहने की शपथ ली इस अवसर पर कलेक्ट्रेट सभागार में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत डॉ सलोनी सिडाना, अपर कलेक्टर डॉ आरपी तिवारी समेत अन्य विभागीय अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

25 से 30 तक मनाया जाएगा सुशासन सप्ताह

राज्य शासन के निर्देशानुसार 25 से 30 दिसम्बर तक सुशासन सप्ताह मनाया जाएगा। इस दौरान ऐसे अधिकारी कर्मचारी जिन्होंने अपने क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रशासकीय कार्य किए हों उन्हें जिला स्तर पर सम्मानित किया जाएगा।सूचना का अधिकार, लोक सेवाओं के प्रदाय की गारंटी, सीएम हेल्पलाइन, समाधान ऑनलाइन, जन सुनवाई, स्वच्छता तथा इसी तरह के अन्य अधिनियमध् व्यवस्थाएँ जो लोगों के सशक्तिकरण के लिए बनाए गए हैं के सम्बंध में जिला एवं ब्लाक स्तर पर चर्चाएँ आयोजित कर लोगों में इन विषयों के सम्बंध में जागरूकता पैदा की जाएगी। महाविद्यालय तथा हाई स्कूलों में पर्यावरण बचाओ स्वच्छ एवं स्वस्थ समाज एवं ऐसे ही अन्य विषय जो सुशासन में सहायक हों पर संगोष्ठी का आयोजन किया जा सकता है। समस्त शासकीय कार्यालयों में इस अवधि में स्वच्छता अभियान चलाया जाय जिसे इस अवधि के बाद भी निरंतर रखा जाय। इस अभियान के दौरान अभिलेखों का व्यवस्थित संधारण, शौचालय में साफ सफाई, पीने के पानी की व्यवस्था एवं इसी प्रकार के अन्य कार्य जिससे कार्यालय परिवेश स्वच्छ हो किए जाने के निर्देश हैं।


No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com