-->

MP ONLINE NEWS

Breaking News

एक्ट्रोसिटी एक्ट में फंसे सागर सांसद पुत्र, भेजे गए जेल



सागर. मप्र विधानसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी रहे एक नेता को कोर्ट ने जेल भेज दिया है। भाजपा नेता पर एट्रोसिटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया था। अब अगली सुनवाई १९ दिसंबर को तय की गई है। इसके बाद नेताजी जेल से रिहा होंगे या बने रहेंगे तय होगा। भाजपा नेता पर एट्रोसिटी एक्ट के तहत चुनाव के तत्काल बाद हुई कार्रवाई को लेकर सोशल मीडिया पर भी लोग जमकर तंज कस रहे है।


यह है पूरा मामला
दरसअल, सागर जिले के सुरखी विधानसभा क्षेत्र से सुधीर यादव को भाजपा ने अपना प्रत्याशी बनाया था। मतदान के बाद सुधीर जनमन लेने के लिए निकले थे। इस दौरान जब बेलखेड़ी सड़क गांव के दीपेश अहिरवार से किसे मतदान किया पूछा, तो जवाब में कांग्रेस का नाम सुनते ही नेताजी को गुस्सा आ गया था। बाद में दीपेश अहिरवार ने राहतगढ़ थाने पहुंच रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि सुधीर यादव पिता लक्ष्मीनारायण यादव द्वारा उनका जातिगत अपमान करते हुए मारपीट की गई। जिसकी वजह उनके द्वारा कांग्रेस को वोट देने की बात स्वीकारना बताया गया। मामले में पुलिस ने सुधीर यादव के विरुद्ध एट्रोसिटी एक्ट व मारपीट की धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज किया था। साथ ही चालान कोर्ट में पेश किया था।

कोर्ट से नहीं मिली राहत, भेजा जेल
मामले में भाजपा नेता सुधीर यादव ने अग्रिम जमानत के लिए सागर न्यायालय में याचिका लगाई गई थी, लेकिन कोर्ट के न्यायाधीश ने इसे खारिज करते हुए सुधीर यादव को १९ दिसंबर तक के लिए तत्काल प्रभाव से जेल भेजने का आदेश जारी किया है। इस आदेश के बाद फिलहाल नेता को जेल भेज दिया गया है। इधर राजनीति भी एक बार फिर गरम होने लगी है। 

भाजपा नेता सुधीर यादव सुरखी से मौजूदा विधायक पारुल साहू की टिकट कटने के बाद यहां से चुनाव लड़े थे। यहां से कांग्रेस ने गोविंद सिंह राजपूत को प्रत्याशी बनाया था। जिन्होंने बड़ी जीत हासिल की है और अब मंत्री पद की दौड़ में शामिल है। सुधीर सागर से सांसद लक्ष्मीनारायण यादव के पुत्र है।


3 comments:

  1. Jagrukta ajay to Sabhi samany varg ke liye achha hai

    ReplyDelete
  2. बहुत अच्छा हुआ चुन चुन कर इस एक्ट को बनाने वालों को जेल भेजो और जमकर कुटो तब पता लगेगा कि sc के आदेश की अवहेलना बुरा था।

    ReplyDelete
  3. Sc/st एक्ट एक अंधा कानून है जो कि bjp नेलागू किया चलो अच्छा है bjp के ही नेता फसने लगे अब कैसा लग रहा है

    ReplyDelete

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com