-->

Breaking News

देश में वायु प्रदूषण से 12.4 लाख की मौत, मध्यप्रदेश छठे नंबर पर



1.7 वर्ष घटी भारतीयों की औसत आयु
भोपाल. वायु प्रदूषण को लेकर ‘दी लैंसेट प्लैनेट्री हेल्थ’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, 2017 में भारत में वायु प्रदूषण के कारण 12.4 लाख लोगों की मौत हो गयी जो कि 70 वर्ष से कम उम्र के थे. रिपोर्ट में कहा गया है कि वायु प्रदूषण के कारण लोगों की औसत आयु करीब 1.7 वर्ष घट गयी है. विश्व में भारत एकमात्र  ऐसा देश हैं जहां पीएम2·5 का लेवल हर वर्ष विश्व स्तर पर सबसे ज्यादा होता है. भारत का एक भी ऐसा राज्य नहीं था जहां पर विश्व स्वास्थ्य संगठन के मानक से 10 माइक्रोग्राम/मी³, 45 से कम हो. 

मध्यप्रदेश छठे नंबर पर

रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत के कुछ राज्यों में हवा की गुणवत्ता बेहद खराब है. उत्तर भारतीय राज्यों में दोनों (घरेलू वायु प्रदूषण और परिवेश कण पदार्थ) सबसे ज्यादा मिलते हैं जिसमें बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश राजस्थान शामिल हैं. उत्तर भारत के कुछ राज्यों दिल्ली, हरियाणा, पंजाब में परिवेश कण पदार्थ सबसे ज्यादा मिलते हैं. दुनिया भर में भारत के 15 में से 14 शहरों में वायु प्रदूषण की हालत बहुत ही खराब है. 

प्रदूषण से किस राज्य में कितनी मौतें

उत्तर प्रदेश 260028
महाराष्ट्र 108038
बिहार 96967
प बंगाल 94534
राजस्थान 90499
मध्य प्रदेश 83045
कर्नाटक 64333
तमिलनाडु 61205
गुजरात 58696
आंध्र प्रदेश 45525

2017 में वायु प्रदूषण से कार्बन उत्सर्जन में भारत विश्व में चौथा

कार्बन उत्सर्जन के मामले में भारत दुनिया में चौथे नंबर है. ग्लोबल कार्बन प्रोजेक्ट के मुताबिक-2017 के मुताबिक कार्बन उत्सर्जित करने वाले टॉप-चार देश मिलकर विश्व के कुल उत्सर्जन को 58% कार्बन उत्सर्जित करते हैं. 
चीन 27%
अमेरिका 15%
यूरोपियन यूनियन 10%
भारत 07%

टॉप 10 उत्सर्जकों में सात देश एशिया के

1. चीन
2. अमेरिका
3. यूरोपियन यूनियन
4. भारत
5. रूस
6. जापान
7. जर्मनी
8. ईरान
9. सऊदी अरब
10. दक्षिण कोरिया

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com