-->

Breaking News

ग्रामीण क्षेत्रों में आयोजित कराये राजस्व प्रकरण निराकरण षिविर-कलेक्टर नक्षा तरमीम के प्रकरणों के निराकरण में उदासीनता पर होगी कार्यवाही

ग्रामीण क्षेत्रों में आयोजित कराये राजस्व प्रकरण निराकरण षिविर-कलेक्टर 

नक्षा तरमीम के प्रकरणों के निराकरण में उदासीनता पर होगी कार्यवाही

शहडोल/ प्रदीप मिश्रा -8770089979

कलेक्टर श्रीमती अनुभा श्रीवास्तव की उपस्थिति में कलेक्टर कार्यालय के सभागार में आज राजस्व कार्यों की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक में अपर कलेक्टर श्री अषोक ओहरी, संयुक्त कलेक्टर श्री सुरेष अग्रवाल, अनुविभागीय राजस्व अधिकारी जैतपुर श्री जी.सी. डेहरिया, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व जयसिंहनगर श्री सतीष राय, डिप्टी कलेक्टर सुश्री पूजा तिवारी, सभी तहसीलदार, नायब तहसीलदार एवं राजस्व निरीक्षक उपस्थित रहे। बैठक में कलेक्टर ने सभी राजस्व अधिकारियों को निर्देष दिये कि वे राजस्व प्रकरणों के त्वरित निराकरण बी-1 वाचन, वसूली एवं अतिक्रमण के प्रकरणों के निराकरण के लिये ग्रामीण क्षेत्रों में राजस्व षिविरों का आयोजन कर प्राथमिकता के साथ राजस्व के प्रकरणों का निराकरण सुनिष्चित करें। कलेक्टर ने निर्देष दिये कि राजस्व षिविरों के आयोजन के पूर्व व्यापक प्रचार-प्रसार करें, ताकि किसान राजस्व षिविरों में उपस्थित होकर अपने राजस्व संबंधी प्रकरणों का निराकरण करा सकें। बैठक में कलेक्टर ने सीमांकन के प्रकरणों के निराकरण की तहसीलवार समीक्षा करते हुये सभी तहसीलदारों को निर्देष दिये कि वे सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ सीमांकन के प्रकरणों का निराकरण करायें। कलेक्टर ने निर्देष दिये कि सीमाकंन के प्रकरणों के कारण किसानों को किसी प्रकार की परेषानी नहीं होना चाहिये। कलेक्टर ने निर्देष दिये है कि सभी राजस्व अधिकारी सीमाकंन के प्रकरणों के निराकरण को प्राथमिकता दें। बैठक में नक्षा तरमीम के प्रकरणों के निराकरण के निर्देष देते हुये कलेक्टर ने कहा कि नक्षा तरमीम के प्रकरणों के निराकरण में किसी प्रकार की लापरवाही एवं उदासीनता बर्दास्त नहीं की जायेगी। कलेक्टर ने निर्देष दिये कि नक्षा तरमीम के साथ-साथ नक्षों के कम्प्यूटरीकरण के कार्य को भी प्राथमिकता के साथ किया जाना सुनिष्चित किया जाये। बैठक में कलेक्टर ने पाले के कारण खराब हुई फसलों का सर्वे भी करने के निर्देष राजस्व अधिकारियों को दिये। बैठक में कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों एवं तहसीलदारों को निर्देष दिये कि उनके कार्यालयों में आने वाली जन सुनवाई के प्रकरण जिनका निराकरण तहसील स्तर पर हो सकता है, ऐसे प्रकरणों का निराकरण अपने स्तर पर समय-सीमा में करना सुनिष्चित करें, अनावष्यक आवेदकों को कलेक्टर कार्यालय नहीं भेजें। कलेक्टर ने निर्देष दिये कि जन सुनवाई के लंबित षिकायतों का निराकरण सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारी और तहसीलदार समय-सीमा में करना सुनिष्चित करें। बैठक में रबी फसल की गिरदावली की प्रगति की समीक्षा भी कलेक्टर द्वारा की गई। समीक्षा करते हुये कलेक्टर ने निर्देष दिये कि रबी फसल की गिरदावली प्राथमिकता के साथ करना सुनिष्चित करें। कलेक्टर ने गिरदावली कार्य में अपेक्षित प्रगति नहीं होने पर नाराजगी व्यक्त की। कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय अधिकारियों को निर्देष दिये कि वे धान उपार्जन के कार्यों का भी निरीक्षण करें तथा धान उपार्जन के कार्य की निरन्तर माॅनीटरिंग करें। बैठक में डिजिटल जाति प्रमाण-पत्र वितरण, मतदाता सूची अपडेषन की भी समीक्षा की गई।

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com