-->

MP ONLINE NEWS

Breaking News

जिला जेल में आयोजित हुआ विधिक साक्षरता शिविर

जिला जेल में आयोजित हुआ विधिक साक्षरता शिविर

शहडोल / प्रदीप मिश्रा - 8770089979

आज जिला जेल शहडोल में विधिक साक्षता षिविर का आयोजन किया गया। जिसमें जिला एवं सत्र न्यायाधीश एवं अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण शहडोल श्री आर.के. सिंह के निर्देशन में जिला न्यायालय शहडोल में पदस्थ प्रथम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री अविनाश चंद्र तिवारी, अपर जिला न्यायाधीश एवं सचिव श्री अनूप कुमार त्रिपाठी एवं जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री बी.डी. दीक्षित द्वारा जिला जेल शहडोल का निरीक्षण किया गया तत्पश्चात विचाराधीन बंदियों के मध्य बंदियों के अधिकार एवं प्लीबारगेनिंग विषयों की जानकारी आयोजित षिविर में दी गई। शिविर में बंदियों को विधिक सहायता प्राप्त करने के अधिकार से अवगत कराते हुये प्रथम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री अविनाश चंद्र तिवारी द्वारा प्लीबारगेनिंग की प्रक्रिया विचाराधीन बंदियों को समझाई गई तथा धारा 436 ए के आलोक में प्रकरणों की समीक्षा की  गई । लगभग 112 विचाराधीन बंदियों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सभी अभिरक्षा के बंदियों को निःशुल्क विधिक सहायता प्रदान किये जाने का विधि का प्रावधान है तथा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सदैव विधिक सलाह एवं सहायता प्रदान करने के लिये तत्पर है ।  प्लीबारगेनिंग दाण्डिक मामले का समझौते के आधार पर अंतिम निराकरण हेतु एक उपबंध है । यदि कोई अभियुक्त जिसके विरूद्ध न्यायालय में कोई मामला चल रहा है और 18 वर्ष की उम्र से अधिक है तथा ऐसा मामला 7 वर्ष से अधिक कारावास से दंडनीय न हो तथा महिलाआंे और बच्चों के विरूद्ध न हो देश की सामाजिक और आर्थिक स्थिति को प्रभावित करने वाला न हो । ऐसे मामलों में अभियुक्त प्लीबारगेनिंग प्रक्रिया का लाभ उठा सकता है । इसका लाभ यह है कि अभियुक्त अपराध के लिये निर्धारित दण्ड की अधिकतम सजा में से एक चैथाई सजा से दंडित किया जायेगा । अपर जिला न्यायाधीश एवं सचिव श्री अनूप कुमार त्रिपाठी द्वारा विधिक सहायता के अंतर्गत जिला विधिक सेवा प्राधिकरण शहडोल द्वारा बंदियांे के प्रकरणांे में नियुक्त किये जाने वाले पैनल लायर्स द्वारा की गई पैरवी के संबंध में बंदियों से जानकारी ली तथा उन्हें निःशुल्क और सक्षम विधिक सलाह और सहायता प्राप्त करने के अधिकार के बारे में अवगत कराया । जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री बी.डी. दीक्षित ने बंदियों को विधिक अधिकारों के बारे में जानकारी दी तथा शिविर में उपस्थित लगभग 112 विचाराधीन बंदियों से विधिक सहायता के संबंध में  जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के पैनल अधिवक्ताओं के माध्यम से प्रकरण में पैरवी कराये जाने हेतु जेल में उपस्थित पैरालीगल वालेंटियर से बंदियों के आवेदन जेल अधीक्षक के माध्यम से जिला विधिक सेवा प्राधिकरण शहडोल को दिये जाने हेतु कहा गया । इस विधिक साक्षरता शिविर के आयोजन में सहायक जेल अधीक्षक श्री एच.एस. राठौर व अन्य जेल के अधिकारी पैरालीगल वालेंटियर व अन्य जेल स्टाफ उपस्थित रहा ।   

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com