-->

Breaking News

एमआर अभियान में सभी षिक्षण संस्थानों के प्रमुख सक्रिय भागीदारी निभायें-जिला षिक्षा अधिकारी

एमआर अभियान में सभी षिक्षण संस्थानों के प्रमुख सक्रिय भागीदारी निभायें-जिला षिक्षा अधिकारी

शहडोल / प्रदीप मिश्रा 8770089979-

जिला षिक्षा अधिकारी श्री उमेष कुमार धुर्वे ने सभी प्राचार्य, प्रधानाध्यापक, शासकीय, अषासकीय, प्राथमिक, माध्यमिक, हाई स्कूल, हायर सेकेण्ड्री स्कूल, समस्त विकासखण्ड षिक्षा अधिकारी एवं समस्त बी.आर.सी. को निर्देषित किया है कि भारत सरकार द्वारा डब्ल्यूएचओ, यूनीसेफ एवं स्वास्थ्य विभाग के द्वारा संयुक्त रूप से 15 जनवरी 2019 से मीजल्स एवं रूबेला रोग उन्मूलन तथा नियंत्रण करने के लिये अभियान चार सप्ताह तक चलाया जा रहा है। इस अभियान के तहत् 09 माह से 15 वर्ष तक के सभी बच्चों को टीका लगाया जाना है, उक्त अभियान के सफलता के लिये षिक्षा विभाग की महत्वपूर्ण सहयोगी भूमिका होगी। जिसमें पंजीकृत समस्त शालाओं की विस्तृत सूची का आदान-प्रदान करना, कक्षावार बच्चों के पंजीयन का विवरण प्रदान करना, एमआर अभियान में जिम्मेदारी सुनिष्चित करने के लिये एक षिक्षक को नोडल अधिकरी नियुक्त करना, समस्त शालाओं में षिक्षक अभिभावक बैठकों का आयेाजन कर अभियान के प्रति अभिभावक को संवदेनषील करना, इस अभियान के प्रति जागरूकता लाने के लिये बच्चों में निबंध लेखन, पोस्टर चित्रकला की प्रतियोगिता आयोजित करना तथा प्रार्थना स्थल पर अभियान के लगाये जाने वाले टीकों के फायदे से बच्चों को अवगत कराना तथा समस्त संस्थाओं में रैली एवं प्रभात फेरी का आयोजन तथा ब्लाॅक एवं शहरी क्षेत्र में एमआर टीकाकरण अभियान की कार्ययोजना निर्माण में स्वास्थ्य विभाग का सहयोग करना एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा दिये गये आमंत्रण पत्र को समस्त अभिभावकों को प्रदान करना मुख्य है। जिला षिक्षा अधिकारी ने कहा कि षिक्षण संस्थान में अभियान हेतु तय दिवस में लाभार्थियों के अनुरूप टीकाकरण हेतु कमरे में बैठने की व्यवस्था करना, पेयजल एंव स्वच्छता एवं अन्य आवष्यक व्यवस्था हेतु स्टाफ की ड्यूटी सुनिष्चित करना, शालायें टीकाकरण के दिन टीकाकरण बच्चों की रिपोर्ट तैयार करना एवं अनुपस्थित तथा छूटे हुये बच्चों की नामवार फार्म 9-ए एवं 9-बी की सूची तैयार कर संबंधित टीकाकरण टीम को उपलब्ध करायें। जिससे छूटे हुये बच्चों को भी टीका लगाया जा सके।

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com