-->

MP ONLINE NEWS

Breaking News

प्रधानमंत्री मोदी के 10% आरक्षण पर सपाक्स का जबाब- निर्धारित सीमा के अंदर ही हो आर्थिक आधार पर आरक्षण



भोपाल : सामान्य, पिछड़ा एवं अल्पसंखयक वर्ग अधिकारी/ कर्मचारी संस्था (सपाक्स), सामान्य, पिछड़ा व अल्पसंख्यक कल्याण समाज संस्था (सापक्स समाज) और समाज संस्था की युवा ईकाई संयुक्त रूप से केंद्र सरकार द्वारा सामान्य वर्ग को 10% आरक्षण का स्वागत करती है बशर्ते कि यह आरक्षण निर्धारित 50% की सीमा में हो। जानकारी के अनुसार उक्त आरक्षण आर्थिक आधार पर सामान्य वर्ग के गरीबों को दिया जाना है। सपाक्स सिद्धांत रूप में हर वर्ग को आर्थिक आधार पर आरक्षण की पक्षधर है। यह बात स्वयं मान सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ "पदोन्नति में आरक्षण" प्रकरण में कह चुकी है कि अनु जाति/ जनजाति के लिए भी क्रीमी लेयर परिभाषित की जाए।


यदि केंद्र सरकार संविधान संशोधन कर निर्धारित सीमा से बढ़ाकर यह आरक्षण देती है तो सपाक्स इसका विरोध करेगी। सपाक्स सिद्धांतत: सभी वर्गों को उनकी आबादी के मान से 50% की निर्धारित सीमा में आर्थिक आधार पर आरक्षण की पक्षधर है। यदि संविधान संशोधन कर ऐसा किया जाता है तो पुन: न्यायालय में इसे चुनौती मिलेगी। ऐसी स्थिति में यह एक राजनैतिक हथकंडा और लालीपोप सिद्ध होगा।

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com