-->

MP ONLINE NEWS

Breaking News

बरगवां के बैगा परिवार की महिलाये पहुची कलेक्ट्रेट अनुदान राशि न मिलाने पर रोजगार सहायक को बताया दोषी सचिव ना होने से रोजगार सहायक की मनमानी जारी

बरगवां के बैगा परिवार की महिलाये पहुची कलेक्ट्रेट


अनुदान राशि न मिलाने पर रोजगार सहायक को बताया दोषी


सचिव ना होने से रोजगार सहायक की मनमानी जारी

अमलाई / प्रदीप मिश्रा – 8770089979

जैतहरी जनपद अंतर्गत ग्राम पंचायत बरगवां में बैगा समुदाये के लोगो को इन दिनों शासन की योजनाओ का लाभ नहीं मिल पा रहा है बताया जाता है की जब से यहाँ रोजगार सहायक नियुक्त हुई है अपने मन मर्जी का पंचायत चला रही है बरगवां के बैगा महिलायों ने रोजगार सहायक से तंग आकर कलेक्ट्रेट पहुच कर २२ महिलाओ ने शिकायत किया है निसमे बताया है की ग्राम पंचायत  बरगवां में कई बार बैगा अदिवासी को १ हजार रूपए मिलने वाला सहायता राशि के लिए आवेदन किया गया व फोटो कापी करके आधार कार्ड खाता नंबर परिवार आईडी को जमा किया गया लेकिन आज तक रोजगार सहायक सचिव द्वारा किसी प्रकार की सुनवाई नहीं की जा रही है बैगा अनुदान राशि दिलाये जाने को लेकर कलेक्टर से शिकायत करते हुए बैगा महिला समूह ने सचिव को काम करने के लिए कैम्प लगाये जाने का आदेश जारी कराने को कहा गया है शिकायत करते हुए सुनीता बैगा रति बैगा राज बाई बैगा माया देवी भोलाइया बाई बैगा भिन्सरिया बैगा शांति बैगा दुआसिया बैगा कमला बैगा बिहनिया बैगा चरकी बैगा संगीता बैगा खेलन बाई बैगा रामरती बैगा उजरिया बैगा मीरा बैगा अनीता बैगा ललिता बैगा ने जल्द ही मामले के निराकरण की मांग की है

रोजगार सहायक की मनमानी कब होगी खत्म नये सचिव की मांग


बरगवां पंचायत लगातार भ्रष्टाचार की चपेट में है यहाँ शौचालय घोटाला करने के बाद मुख्य सचिव हटा दिया गया साथ ही सरपंच भी हट चुकी थी लेकिन कोर्ट से स्टे लेकर सरपंच पुनः कार्य में लग गई वही नये सचिव न आने से रोजगार सहायक की चांदी हो गई कई निर्माण कार्यों में इन पर आरोप लगे है जिसमे गेस्ट हाउस से लेकर कैलाश मिश्रा के घर तरफ बनाये गये सीसी सड़क निर्माण जिसमे मजदूरों का भुगतान नहीं किया गया था डोंगरी टोला में फर्जी मस्टर रोल भरकर बिना कार्य किये पैसों का आहरण किया गया अभी हाल ही में बरगवां मेले की सफाई को लेकर लेवरों के भुगतान का मामला शांत नहीं हुआ था की कई मामले सामने आने लगे है ग्रामीणों ने तत्काल नये सचिव नियुक्त करने को लेकर मांग की है

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com