-->

MP ONLINE NEWS

Breaking News

कृषि यंत्रीकरण के माध्यम से कम मेहनत में पाएं अधिक मुनाफा आईजीएनटीयू के केवीके दे रहा विभिन्न प्रकार के कृषि यंत्रों का प्रशिक्षण किसान क्रेडिट कार्ड से होने वाले फायदे के बारे में किसानों को बताया गया

कृषि यंत्रीकरण के माध्यम से
कम मेहनत में पाएं अधिक मुनाफा

आईजीएनटीयू के केवीके दे रहा विभिन्न प्रकार के कृषि यंत्रों का प्रशिक्षण

किसान क्रेडिट कार्ड से होने वाले फायदे के बारे में किसानों को बताया गया

अनूपपुर / अमरकटंक / प्रदीप मिश्रा -8770089979

किसानों को विभिन्न प्रकार के यंत्रों और उपकरणों के प्रयोग का प्रशिक्षण देने के उद्देश्य से इंदिरा गांधी राष्ट्रीय जनजातीय विश्वविद्यालय स्थित कृषि विज्ञान केंद्र (केवीके) ने पुष्पराजगढ़ की ग्राम पंचायत बीजापुरी में विगत दिवस कृषक संगोष्ठी आयोजित की गई। इसमें किसानों का आह्वान किया गया कि वे समूह में कृषि संबंधी यंत्रों का प्रयोग कर खेती की लागत को कम करके अपने मुनाफे को और अधिक बढ़ा सकते हैं।
विषय वस्तु विशेषज्ञ (एसएमएस) संदीप चैहान ने किसानों को उन्नत कृषि यंत्र बेलो और ट्रेक्टर चालित सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल मशीन, धान की बुवाई मशीन, धान रोपने की मशीन आदि के बारे किसानों को विस्तार से जानकारी प्रदान की। उन्होंने बैलों के माध्यम से प्रयोग किए जाने वाले कृषि उपकरणों के बारे में भी बताया।
श्री चैहान का कहना था कि इन यंत्रों के प्रयोग से किसान खेती में श्रम को काफी कम कर सकते है जिससे धन और समय दोनों की बचत संभव है। एसएमएस योगेश कुमार ने धान फसल में कोनोवीडर यंत्र के उपयोग के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि इसके प्रयोग से धान की पौध को कम समय और कम लागत में आसानी के साथ रोपा जा सकता है।  संगोष्ठी में मुख्य रूप से प्रकाश ध्रुवे, सेवक राम मरावी सहित बड़ी संख्या में किसानों ने खेती की चुनौतियों के बारे में जानकारी प्रदान की। उन्होंने किसानों को धान की विभिन्न किस्मों, ज्वार, बाजरा, कोदो, कुटकी और रागी की प्रदर्शनी लगाकर इनसे होने वाले लाभ की जानकारी भी प्रदान की।
केवीके द्वारा आयोजित एक अन्य कार्यक्रम में ग्राम हर्षवाह में किसान क्रेडिट कार्ड के बारे में जानकारी प्रदान की। विशेषज्ञों ने किसानों को क्रेडिट कार्ड से होने वाले लाभ की जानकारी देते हुए बताया कि इससे किसानों को समय पर ऋण प्राप्त हो सकता है जिससे समय पर उपकरण, बीज और खाद खरीदकर खेती से होने वाले लाभ को बढ़ाया जा सकता है। केवीके के प्रमुख डॉ. एस.के. पांडे का कहना है कि किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से किसानों को क्रेडिट कार्ड और पासबुक प्रदान की जाती है जिसमें उसकी मूलभूत जानकारी होती है। किसान कम लिखा-पढ़ी के माध्यम से आसानी से खेती के लिए ऋण प्राप्त कर सकते हैं। श्री चैहान का कहना है कि कार्ड से प्राप्त ऋण का भुगतान फसल बेचने के बाद आसानी के साथ किया जा सकता है। उन्होंने किसानों से निकटतम बैंक ब्रांच से किसान क्रेडिट कार्ड प्राप्त कर इसका लाभ उठाने का आह्वान किया।


No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com