-->

MP ONLINE NEWS

Breaking News

महिलाओं की भागीदारी को बढ़ाए जाने की आवश्यकता अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर आईजीएनटीयू में कार्यक्रम आयोजित

महिलाओं की भागीदारी को बढ़ाए जाने की आवश्यकता
अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर आईजीएनटीयू में कार्यक्रम आयोजित

अनूपपुर / अमरकटंक /प्रदीप मिश्रा /8770089979

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष में इंदिरा गांधी राष्ट्रीय जनजातीय विश्वविद्यालय के महिला प्रकोष्ठ के तत्वावधान में आयोजित कार्यक्रम में सभी क्षेत्रों में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने का आह्वान किया गया। वक्ताओं का कहना था कि इसके लिए पुरुष आधारित समाज की अवधारणा को बदलने की आवश्यकता है जिसे शिक्षा के माध्यम से परिवर्तित किया जा सकता है। कार्यक्रम में स्पर्श की अध्यक्ष डॉ. पूनम शर्मा का कहना था कि आधी जनसंख्या वाली महिलाओं को आगे बढ़ने के लिए समान अवसर उपलब्ध कराए जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय का महिला प्रकोष्ठ महिलाओं के उत्थान के लिए निरंतर प्रयासरत है। प्रकोष्ठ की पहल से मजदूर, घरेलू कार्य करने वाली तीस से अधिक महिलाओं के बैंक एकाउंट खुलवाए गए हैं। इसके अलावा स्वास्थ्य और सफाई को लेकर भी प्रकोष्ठ निरंतर कार्यक्रम आयोजित कर रहा है। निदेशक (अकादमिक) प्रो. आलोक श्रोत्रिय ने महिलाओं के उत्थान के लिए सभी से मानसिकता बदलने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि सामाजिक उत्थान के लिए सभी वर्गों में संतुलन की आवश्यकता होती है। इसी प्रकार महिला और पुरुष दोनों मिलकर समाज को नई दिशा दे सकते हैं। उन्होंने युवाओं से स्वयं की मानसिकता को बदलकर महिलाओं की भागीदारी को स्वीकार करने का आह्वान किया।

वित्ताधिकारी सीएमए ए. जेना ने समाज में सभी की बराबरी की भागीदारी पर जोर देते हुए कहा कि महिलाओं का सामाजिक, औद्योगिक और व्यावसायिक विकास में अतुलनीय योगदान संभव है। कारपोरेट सेक्टर में भी महिलाओं ने नेतृत्व की नई क्षमता का प्रदर्शन किया है। अतः अब स्वयं की मानसिकता को बदलने की आवश्यकता है। डीन (छात्र कल्याण) प्रो. भूमिनाथ त्रिपाठी ने लिंग आधारित अवधारणा को लोगों की बीमार मानसिकता का परिणाम बताया। उनका कहना था कि छात्राओं को भी स्वयं के पैरों पर खड़े होने में हर संभव सहयोग दिया जाना चाहिए। प्रो. किशोर जी. गायकवाड़ ने पुरुष आधारित समाज की सोच को बदलकर बालिकाओं को प्रगति के सभी आयाम उपलब्ध कराने पर बल दिया। कार्यक्रम का संचालन डॉ. मारिया जोसफिन अरोकिया मारिया एस. ने किया। इस अवसर पर डॉ. सुनीता मिंज और डॉ. पी. श्रीदेवी के निर्देशन में आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं के पुरस्कार भी वितरित किए गए।




No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com