-->

MP ONLINE NEWS

Breaking News

सोशल मीडिया मे राजनैतिक प्रचार का व्यय निर्वाचन खर्चे मे जोड़ा जाएगा अनूपपुर सोशल मीडिया मे राजनैतिक प्रचार का व्यय निर्वाचन खर्चे मे जोड़ा जाएगा

सोशल मीडिया मे राजनैतिक प्रचार का व्यय निर्वाचन खर्चे मे जोड़ा जाएगा

अनूपपुर सोशल मीडिया मे राजनैतिक प्रचार का व्यय निर्वाचन खर्चे मे जोड़ा जाएगा

अनूपपुर/ प्रदीप मिश्रा - 8770089979

सोशल मीडिया के बढ़ते हुए प्रभाव को देखते हुए निर्वाचन प्रक्रिया मे सोशल मीडिया की गतिविधियों पर भी नजर रखी जाएगी। निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार अभ्यर्थी को नाम निर्देशन पत्र मे अपने सोशल मीडिया अकाउंटस की जानकारी भी देनी होगी। निर्वाचन आयोग ने यह स्पष्ट किया है कि सोशल मीडिया भी इलेक्ट्रोनिक मीडिया की परिभाषा अंतर्गत आता है अतएव राजनैतिक विज्ञापनो का बिना सक्षम एमसीएमसी समिति के पूर्व प्रमाणन के सोशल मीडिया मे प्रयोग नहीं किया जा सकेगा। अभ्यर्थी एवं राजनैतिक दलो से अपेक्षित है कि निर्वाचन व्यय मे सोशल मीडिया मे प्रचार का खर्च भी आवश्यक रूप से जोड़ें।  सोशल मीडिया मे राजनैतिक प्रचार मे उपगत व्यय मे इंटरनेट कंपनी, वैबसाइट को राजनैतिक विज्ञापनो को स्थान देते हेतु किए गए व्यय, कंटैंट डिजाइन हेतु व्यय, सोशल मीडिया अकाउंट कहेतु नियुक्त किए कर्मचारी अथवा समूह को किया गया व्यय अन्य संबन्धित व्ययों समेत शामिल करना होगा। आदर्श आचरण संहिता के प्रावधान एवं अपेक्षित आचरण सोशल मीडिया गतिविधियों पर भी प्रभावी होंग सोशल मीडिया के बढ़ते हुए प्रभाव को देखते हुए निर्वाचन प्रक्रिया मे सोशल मीडिया की गतिविधियों पर भी नजर रखी जाएगी। निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार अभ्यर्थी को नाम निर्देशन पत्र मे अपने सोशल मीडिया अकाउंटस की जानकारी भी देनी होगी। निर्वाचन आयोग ने यह स्पष्ट किया है कि सोशल मीडिया भी इलेक्ट्रोनिक मीडिया की परिभाषा अंतर्गत आता है अतएव राजनैतिक विज्ञापनो का बिना सक्षम एमसीएमसी समिति के पूर्व प्रमाणन के सोशल मीडिया मे प्रयोग नहीं किया जा सकेगा। अभ्यर्थी एवं राजनैतिक दलो से अपेक्षित है कि निर्वाचन व्यय मे सोशल मीडिया मे प्रचार का खर्च भी आवश्यक रूप से जोड़ें।  सोशल मीडिया मे राजनैतिक प्रचार मे उपगत व्यय मे इंटरनेट कंपनी, वैबसाइट को राजनैतिक विज्ञापनो को स्थान देते हेतु किए गए व्यय, कंटैंट डिजाइन हेतु व्यय, सोशल मीडिया अकाउंट कहेतु नियुक्त किए कर्मचारी अथवा समूह को किया गया व्यय अन्य संबन्धित व्ययों समेत शामिल करना होगा। आदर्श आचरण संहिता के प्रावधान एवं अपेक्षित आचरण सोशल मीडिया गतिविधियों पर भी प्रभावी होंगे।

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com