-->

MP ONLINE NEWS

Breaking News

ठेकेदार पर अब तक नही हुई कार्यवाही बिजली उपभोक्ताओं से हो चुकी लाखों की लूट अधीक्षण यंत्री और पहल ठेकेदार के साथ चल रहे जुगाड़

ठेकेदार पर अब तक नही हुई कार्यवाही बिजली उपभोक्ताओं से हो चुकी लाखों की लूट

अधीक्षण यंत्री और पहल ठेकेदार के साथ चल रहे जुगाड़ 

शहडोल / प्रदीप मिश्रा - 8770089979

शहडोल संभाग के तीनों जिलों में विगत तीन माह से बिजली बिल ना मिलने पर आम बिजली उपभोक्ता काफी दिक्कतों का सामना कर रहा है वही मार्च माह के बिल में अंतिम तिथि बीत जाने के बाद भी उपभोक्ताओं को बिजली के बिल नही मिले| जनवरी माह से शहडोल संभाग में पहल  ठेकेदार द्वारा इन दिनों बिजली बिल वितरण एवं  हर एक घर में स्मार्ट फोटो रीडिंग करने का ठेका लिया है जबकि ना तो जनवरी माह से हर एक घर की फोटो रीडिंग हो पा रही है और ना ही आम बिजली उपभोक्ताओं  के घर में बिजली बिल पहुंच पा रहे हैं बिजली बिल आए दिन किसी गली, चौक चौराहों पर या फिर कहीं नालों में बंडल  फेंके हुए व जानवर बिजली बिल खाते हुए देखे जा रहे हैं ठेकेदार का पूरा काम विभाग के उच्च अधिकारियों के दबाव में विभागीय लाइन मैन, लाइन स्पेक्टर से करवाया जा रहा है जहां विभागीय लाइन स्टाफ पर उच्च अधिकारियों द्वारा दबाव बनाकर पहल ठेकेदार का कार्य बिल वितरण और रीडिंग करने को मजबूर किया जा रहा है वही बिजली बाधित हो जाने पर भी आम नागरिक, किसानों एवं व्यापारियों को घंटो बिजली चालू होने का इंतजार करना पड़ा रहा है जिससे यह प्रतीत होता है कि पहल नाम के ठेकेदार और अनूपपुर जिले के बिजली अधीक्षण यंत्री से साठ गांठ कर केवल खानापूर्ति किया जा रहा है जिसका खामियाजा आम बिजली उपभोक्ताओं को भुगतना पड़ रहा है साथ ही बिजली बिल नियत तिथि के बीत जाने के बाद वो भी बिल खोजे जाने के बाद मिलने पर लेट फीस (विलंब अधिभार शुक्ल)के साथ जमा करने पर विवश हो रहे है वहीं दूसरी ओर ठेकेदार और विभागीय मिलीभगत कर बिजली उपभोक्ताओं के जेब से हर माह लाखों रूपये विलंब शुक्ल के नाम पर लुटे जा रहे है साथ ही बिजली बिल समय पर न दिए जाने से राजस्व वसूली पूरी तरह प्रभावित हो गई है विगत तीन माह से शहडोल संभाग अंतर्गत अनूपपुर, शहडोल एवं उमरिया जिले की कुल राजस्व वसूली मात्र 25 से 30 फीसदी ही हो पा रही है जिससे विभाग को भी भारी नुकसान हो रहा है|

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com