-->

MP ONLINE NEWS

Breaking News

बाल विवाह अपराध, सेवा प्रदाता भी हैं सजा के भागीदार - कलेक्टर चन्द्र मोहन ठाकुर

बाल विवाह अपराध, सेवा प्रदाता भी हैं सजा के भागीदार - कलेक्टर चन्द्र मोहन ठाकुर

अनुपपुर / प्रदीप मिश्रा - 8770089979

कलेक्टर चन्द्र मोहन ठाकुर ने 07 मई को अक्षय तृतीया के दिन बाल विवाहों की आशंकाओं पर संज्ञान लेते हुए नागरिकों को समझाइश देते हुए कहा है  कि बाल विवाह को रोकना एवं इसे हतोत्साहित करना हर समझदार और कानूनप्रिय व्यक्ति की जिम्मेदारी है, इसलिये यह अवश्य सोचें कि कहीं आप 18 वर्ष से कम उम्र की लाडली बिटिया का विवाह करके उसकी जिंदगी अनजाने जोखिम में डालने तो नहीं जा रहे हैं कही आप अपने 21 वर्ष से कम उम्र के बालक का भविष्य तो खतरे  नही डाल रहे। आपने अक्षय तृतीया एवं विशेष तिथियों मे जिले के सामूहिक विवाह कराने वाले आयोजकों, सभी धर्मगुरू, समाज के मुखिया, हलवाई, केटरर, बैंडवाला, घोड़ीवाला, ट्रांसपोर्ट, प्रिंटिंग प्रेस के प्रबंधक, ब्यूटी पार्लर, संचालक मंगल भवन और अन्य संबंधितों से कहा है कि वे किसी विवाह या समारोह में शामिल होने से पहले यह अवश्य देख लें कि कहीं वो बाल विवाह तो नहीं है। यदि बाल विवाह हो तो इसे रोकने में शासन का सहयोग करें। उल्लेखनीय है कि ऐसे व्यक्ति जो बाल विवाह में सहयोग करते हैं सेवा प्रदाता हैं उन्हें बाल विवाह निषेध अधिनियम के तहत 2 वर्ष के कारावास अथवा 2 लाख तक का जुर्माना अथवा दोनो से दंडित किया जा सकता है।

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com