-->

MP ONLINE NEWS

Breaking News

18 सौ वर्ष पुराने चांदी और सोने के मिले सिक्के, मचा हड़कंप | Rewa News



रीवा : राजधानी से सटे आरंग के समीप ग्राम रीवा में प्राचीन स्तूपों की खुदाई में संस्कृति एवं पुरातत्व विभाग के विशेषज्ञों को बड़ी सफलता मिली है। विशेषज्ञों का दावा है कि खुदाई में 18 सौ वर्ष पुराने चांदी और सोने के सिक्के के साथ मणिकणिकाएं मिली है। पुरावशेषों के अन्वेषण के लिए शुरू किए गए इस उत्खनन में एक फीट की खुदाई में नौ जून को ही 18 सौ साल पुरानी ईटें मिलीं।

गौरतलब है कि संस्कृति एवं पुरातत्व विभाग ने प्रारंभिक सर्वेक्षण के बाद इस स्थल का चयन किया है। यहां प्रथम-द्वितीय सदी के अवशेष मिलने की व्यापक संभावनाएं दिखी थीं। रीवा ग्राम में मिट्टी के प्रकार तथा परिखायुक्त प्राचीन गढ़ तथा बसाहट के विलुप्त अवशेष भी बचे हुए मिले थे। स्थल को देख लगभग 6वीं सदी ईसवी में महत्वपूर्ण प्रशासनिक तथा व्यापारिक स्थल की संभावनाएं लगाई गई थीं। पुरातत्व विशेषज्ञ डॉ. पुरुषोत्म साहू, चेतन कुमार साहू, हेमंत वैष्णव, लोकेश पारकर का कहना है कि ये सभी संभावनाएं सही साबित हो रही हैं।

उत्खननकर्ता निदेशक पद्मश्री सम्मान प्राप्त डॉ. अरुण कुमार शर्मा ने दावा किया है कि उत्खनन करते समय 40 से अधिक टीले मिले हैं, जो बौध स्तूप की तरह हैं। महानदी के पश्चिमी किनारे में बसा ये शहर में सिक्के और मणिकणिकाओं को बनाने का कार्य किया जाता था। पानी की कमी के चलते धीरे-धीरे शहर पूरी तरह से खंडहर में तब्दील हो गया और पुरातत्व के अवशेष वहीं दब गए। खुदाई के 13 दिनों बाद बड़ी मात्रा में मणिकणिकाएं और सोने-चांदी के सिक्के मिले हैं। ये सिक्के सात वाहन काल के समय के हैं। चालीस टीलों को देखकर लगता है कि यह बहुत बड़ा शहर था।

नौ जून को मिली थीं ईंटें

विशेषज्ञों के बताया कि नौ जून की खुदाई में एक फीट की गहराई पर तीन तरह की ईटें मिली है, जिसमें 35 सेंटीमीटर, 19 सेंटीमीटर और 7 सेंटीमीटर की ईंटें शामिल हैं।

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com