-->

MP ONLINE NEWS

Breaking News

नेशनल डिवार्मिंग डे के अंतर्गत बच्चों को दी गई एल्वेंडाजाल क्रमिनाशक की खुराक एकलब्य आवासीय विद्यालय अनूपपुर में कलेक्टर अनूपपुर द्वारा किया गया शुभारंभ

नेशनल डिवार्मिंग डे के अंतर्गत बच्चों को दी गई एल्वेंडाजाल क्रमिनाशक की खुराक

एकलब्य आवासीय विद्यालय अनूपपुर में कलेक्टर अनूपपुर द्वारा किया गया शुभारंभ

अनूपपुर / प्रदीप मिश्रा -8770089979

एक स्वस्थ्य मजबूत मानव संसाधन ही देश की असली ताकत है म.प्र. शासन द्वारा बच्चों के शिक्षा हेतु विभिन्न प्रकार की योजनायें संचालित की जा रही है जिसका लाभ लेने का कार्य आप सभी बच्चों का है उक्त आशय के विचार कलेक्टर  चंद्रमोहन ठाकुर द्वारा नेशनल डिवार्मिंग डे 08 अगस्त 2019 को एकलब्य आवासीय विद्यालय अनूपपुर में बच्चों को क्रमिनाशक एल्वेंडाजाल का खुराख देने के अवसर पर व्यक्त किये गये। कलेक्टर द्वारा स्वंय दवा का सेवन करते हुये बच्चों को दवा खाने हेतु प्रेरित किया गया। बच्चों को बहुत ही प्रेरक एवं मनोविनोद वक्तव्य के माध्यम से बच्चों को शारीरिक, मानसिक, बौद्धिक विकास हेतु विभिन्न उदाहरणों के माध्यम से प्रेरित करते हुये पूरे मनोयोग के साथ दवा सेवन हेतु प्रेरित किया गया। उन्होने बच्चों को साफ-सफाई के साथ नित्य नहाने एवं हाथ धोने के तरीके प्रदर्शन के माध्यम से बताकर सभी बच्चों से हाथ धोकर खाना खाने एवं शौच के बाद साबुन से हाथ धोने की बात बताई। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. बी.डी. सोनवानी द्वारा इस अवसर पर अतिथियों का सम्मान करते हुये स्वागत भाषण प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया एवं कार्यक्रम के उद्देश्य पर बृहद रूप से प्रकाश डाला गया। डाॅ. एस.बी. चैधरी द्वारा विभिन्न प्रकार के वर्म (कीडे) शरीर को किस प्रकार प्रभावित करते हैं और उनकी कैसे रोकथाम हो सकती है के संबंध में विस्तृत जानकारी बच्चों को दी गई। इस विद्यालय में 346 छात्र-छात्राओं ने एल्वेंडाजाॅल क्रमिनाशक दवा का सेवन विद्यालयीन शिक्षकों के सहयोग से किया, साथ ही कन्या परिसर की 220 छात्राओं ने एलबेन्डाजोल टेबलेट का सेवन किया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. बी.डी. सोनवानी द्वारा जानकारी दी गई कि अनूपपुर जिला अंतर्गत 1685 शासकीय विद्यालयों सहित 211 अशासकीय विद्यालयों केन्द्रीय विद्यालय, नवोदय विद्यालय में एक साथ लगभग 152000 बच्चों को क्रमिनाशक दवा की सेवन का लक्ष्य रखा गया था। इसी प्रकार जिले में संचालित कुल 1146 आंगनबाडी केन्द्रों में 60000 बच्चों एवं लगभग 54000 आउट आॅफ स्कूल बालक बालिकाओं को दवा सेवन का लक्ष्य रखा गया था। दवाओं की उपलब्धता विद्यालयों में शिक्षा विभाग के नोडल श्री डी.सी. मिश्रा के माध्यम से संकुल स्तर पर कराई जाकर विद्यालयों में उनकी पहुंच सुनिश्चित कराई गई। जबकि आंगनबाडी केन्द्रों में चारों विकासखण्डों के सीडीपीओ के द्वारा सेक्टर सुपरवाईजर द्वारा आंगनबाडी केन्द्रों तक दवा की उपलब्धता कराई गई। जिला आई.ई.सी. सलाहकार मो. साजिद खान ने बताया कि कार्यक्रम की माॅनेटरिंग युनिसेफ, महिला बाल विकास विभाग, स्वास्थ्य विभाग एवं एनजीओ प्रतिनिधियों के माध्यम से कराई जा रही है। 08 अगस्त 2019 को जो बच्चे दवा सेवन से छूट जायेंगे उन्हें 13 अगस्त 2019 को माॅपअप डे तक दवा की खुराक सेवन कराने के प्रावधान है। समस्त विद्यालय रिपोर्टिंग प्र्रपत्र संबंधित जनशिक्षा केन्द्रों में 20 अगस्त 2019 तक अनिवार्यतः जमा करेंगे। जहां से जिला एनआरएचएम कार्यालय अनूपपुर में संबंधित संकुलो से प्राप्त जानकारी संकलित की जा कर शासन को प्रतिवेदन भेजा जायेगा। इस अवसर पर सहायक आयुक्त आदिवासी विकास डी.एस.राव, जिला कार्यक्रम समन्वयक जिला शिक्षा केन्द्र हेमन्त खैरवार, महिला सशक्तिकरण अधिकारी मंजूषा शर्मा, प्राचार्य एन.पी. झा, डी.पी.एम. जवाहर विश्वकर्मा, आई.ई.सलाहकार मो. साजिद खान तथा विद्यालय के शिक्षकगण भी उपस्थित थे।   

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com