-->

Breaking News

जब किसी ने नाम भी नही सुना था तब राजीव गांधी देश में आईटी की क्रांति लाए थे : CM कमलनाथ | Bhopal News



भोपाल : आज पूरा देश पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 75वीं जयंती मना रहा है, जगह जगह कार्यक्रम किए जा रहे है।वही एमपी में भी राजीव गांधी की जयंती पर कमलनाथ सरकार द्वारा सद्भावना दिवस मनाया जा रहा है। इस मौके पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि जब देश में किसी ने आईटी का नाम तक नहीं सुना था तब राजीव गांधी देश में आईटी की क्रांति लाये।  भारत का नाम आज आईटी सेक्टर में पुरी दुनिया में जुड़ा हैं।

कमलनाथ ने कहा कि आज इस कार्यक्रम में आकर बहुत ख़ुशी हुई। आज के बच्चे देश का फ्यूचर हैं। हम आज राजीव जी को याद करते हैं, उस दौरान देश कहा जा रहा था इसका ज्ञान आज बच्चो को नहीं हैं। ज्ञान और शिक्षा में बहुत अंतर हैं। आज ज्ञान की बहुत बड़ी आवश्यकता हैं। आने वाले समय में ज्ञान का एक बहुत बड़ा रोल रहेगा । हमें समझना है ज्ञान का क्या महत्व  हैं।

पुरानी यादों को याद करते हुए कमलनाथ ने कहा कि राजीव जी के साथ में स्कूल में था। मुझे बोर्डिंग  स्कूल में राजीव और संजय गाँधी मिले थे। राजीव जी मुझसे 4 साल सीनियर थे।  इंद्राजी की हत्या के बाद देश में उसकी एकता पर आक्रमण हो रहा था । जब राजीव जी ने कहा था में देश को 21 वी सदी में ले जाना चाहता हूँ। 1984 में राजीव जी देश के प्रधानमंत्री बने। उस दौरान देश में किसी ने आईटी का नाम तक नहीं सुना था । राजीव जी देश में आईटी की क्रांति लाये  ।भारत का नाम आज आईटी सेक्टर में पुरी दुनिया में जुड़ा हैं।कहा जाता था की कंप्यूटर के आने से बेरोजगारी बढ़ेगी  जिसको लेकर आंदोलन  हुए, लेकिन वो अपने लक्ष्य पर डटे रहे।

सीएम ने कहा कि पहले हमारे देश के लिए अंदुरूनी और सीमा पर बहुत चुनौती थीं। देश में बहुत विभिन्नता और अनेकता हैं। हमारे इतिहास का बुनियाद सदभाव रहा। राजीव जी ने सद्धभावना का सन्देश दिया । राजीव जी हम केवल प्रधानमत्री  के रूप में नहीं बल्कि देश को रास्ता  दिखाने वाले के रूप में याद करते हैं। राजीव जी ऐसे प्रधानमंत्री थे जिनसे  देश प्यार करता था, आज की नई पीढ़ी के लिए बड़ी चुनोतिया हैं। हमें आज के परिवर्तन  से प्रदेश और  देश को जोड़ना  हैं। आज के बच्चे और पहले के बच्चों की सोच में बहुत बड़ा अंतर हैं। आज शिक्षा भी एक चिंता का विषय हैं। आज के और पहले के अस्पतालों में बहुत अंतर हैं। मध्यप्रदेश में एक नया नक्शा बने यहाँ हमारा प्रयास हैं। आज हमें बच्चो को फ्यूचर के लिए तैयार करना हैं। बच्चो और नई पीढ़ी से बहुत ऊर्जा मिलती हैं। राजीवजी जैसे महान नेता को याद करते है।

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com