-->

Breaking News

अफसरों की बढ़ी मुश्किलें, मंत्रालय में कथित पर्चे की चर्चा | MP NEWS



भोपाल। हनी ट्रेप मामले में आधा दर्जन से ज्यादा आरोपियों के पकड़े जाने और इंदौर पुलिस के बयान के बाद प्रदेश के प्रशासनिक हलकों में हड़कंप मचा हुआ है। इस बीच प्रदेश के आला अधिकारियों से जुड़ा एक कथित पर्चा वायरल हो रहा है, जिसकी मंत्रालय में जमकर चर्चा हो रही है। पर्चे में लिखा है कि अधिकािरयों की पत्नियां प्रदेश के मेडिकल कॉलेजों में मोटी वेतन लेती है, जबकि ऐसा नहीं है। अधिकारियों की अवैध संपत्ति एवं उनके  शौक को लेकर प्रधानमंत्री से शिकायत की गई है। 

पर्चे में करीब 9 अफसरों के नाम बताए हैं, जिनमें एक महिला अधिकारी का नाम भी है। पर्चे में अधिकारियों को शौकीन बताया गया है। तीन पेज का पत्र प्रधानमंत्री के नाम लिखा गया है, जिसमें अफसरों की काली कमाई, उनके रंगमिजाज जीवनशैली के बारे में बताया गया है। पत्र में अफसरों के खिलाफ कार्रवाई एवं उनके विदेश दौरे की जांच की मांग की गई है। साथ ही कहा है कि अधिकारियों के बच्चे विदेशों में महंगे स्कूल, कॉलेजों में पढ़ाई कर रहे हैं। अधिकारियों को महाभ्रष्ट बताया गया है और काली कमाई केा ठिकाने लगाने के लिए ये मेडिकल कॉलेज, बिल्डरों का भी सहयोग लेते हैं। मेडिकल कॉलेजों से हर महीने पत्नियों को मोटी सेलरी मिलना बताया जाता है, जबकि ऐसा नहीं है। इस कृत्य की जांच की मांग की गई है। 

पत्र की कोई प्रमाणिकता नहीं

पत्र ऐसे समय में आया है, जब हनी ट्रेप मामले में शासन और प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है। हनी ट्रेप को लेकर कई अधिकारियों की नाम की चर्चा है। इस बीच जो पत्र सामने आया है, उसकी कोई प्रमाणिकता नहीं है। कथित पत्र से अधिकारियों की छवि खराब करने को कोशिश हो सकती है। हालांकि पत्र के संबंध में अभी तक पुलिस ने भी किसी तरह की जांच पड़ताल शुरू नहीं की है। शासन की ओर से केाई बयान सामने आया है। 

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com