-->

Breaking News

1971 युद्ध वीरों एवं परिवारजनो का किया गया सम्मान जिला स्तरीय विजय दिवस कार्यक्रम में जवानो के शौर्य एवं पराक्रम को किया गया याद

1971 युद्ध वीरों एवं परिवारजनो का किया गया सम्मान

जिला स्तरीय विजय दिवस कार्यक्रम में जवानो के शौर्य एवं पराक्रम को किया गया याद

अनूपपुर / प्रदीप मिश्रा - 8770089979

भारत पाकिस्तान युद्ध 1971 में भारत की विजय एवं वीरों की शहादत एवं शौर्य का जिला स्तरीय विजय दिवस समारोह में स्मरण किया गया। विजय दिवस समारोह की शुरुआत 1971 युद्ध वीरों एवं उनके परिवार जनो को गार्ड ऑफ ऑनर देकर हुई। इसके पश्चात वीर जवानो एवं उनके परिवार जनो, कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर, पुलिस अधीक्षक किरणलता केरकेट्टा, नगरपालिका अध्यक्ष रामखेलावन राठोर सहित जनप्रतिनिधियो ने माँ भारती की प्रतिमा में माल्यार्पण कर एवं दीप प्रज्ज्वलित कर भारत माँ की सेवा में अपने प्राणो की आहुति देने वाले वीरों को श्रृद्धांजलि दी। कार्यक्रम की अगली कड़ी में कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर द्वारा मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ के संदेश का वाचन किया गया।
इस दौरान उपस्थित जनो ने माँ भारती के विकास देश खुशहाली एवं अमन चैन हेतु सक्रिय सकारात्मक भूमिका निभाने का प्रण लिया। कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर द्वारा 1971 युद्ध में जिले से शामिल गुरु प्रसाद केवट, मोहन सिंह धुर्वे, रामस्वरूप शर्मा एवं स्वर्गीय शीतल प्रसाद की धर्मपत्नि रामबाई को शाल एवं श्रीफल प्रदान कर सम्मानित किया गया। ग्राम छिल्पा के निवासी रामस्वरूप शर्मा तत्कालीन समय में 15 वीं कोर ऊधमपुर में, वार्ड नम्बर 11 अनूपपुर के निवासी गुरुप्रसाद केवट 14 वीं ब्रिगेड मिजोरम में  पदस्थ थे आपकी ब्रिगेड से स्वर्गीय शहीद लांस नायक ऐल्बर्ट एक्का को परमवीर चक्र एवं स्वर्गीय शहीद मेजर ए के तारा को वीर चक्र प्रदान किया गया था, ग्राम। दमगढ़ पुष्पराजगढ़ के निवासी मोहन सिंह धुर्वे कलकत्ता में पदस्थ थे एवं स्वर्गीय शीतल प्रसाद ने युद्ध क्षेत्र में सक्रिय योगदान दिया था। जिला सैनिक कल्याण बोर्ड से प्राप्त जानकारी के अनुसार अमलाई के भागचंद, हर्राटोला के राम प्रताप जायसवाल, परसवार के निवासी रामबिहारी सिंह, संजयनगर के निवासी रामनरेश गिरी, बिजुरी के तुलसीराम प्रजापति, ग्राम खाँड़ कोतमा के कृपाशंकर पांडे ने 1971 युद्ध में सहभागिता की थी। कार्यक्रम के दौरान सभी जन भारत पाकिस्तान युद्ध 1971 पर आधारित डॉक्युमेंटरी फिल्म एवं फोटो प्रदर्शनी के माध्यम से तत्कालीन प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्रीमती इंदिरा गांधी के दृढ़ संकल्पित राजनैतिक नेतृत्व एवं सैन्य बल के शौर्य से अवगत हुए। इस दौरान विद्यालयीन छात्र छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक प्रस्तुति दी गयी।


No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com