-->

Breaking News

नागरिकता देने और न देने का अधिकार भारत सरकार का होता है-भाजपा नागरिकता संशोधन कानून लागू करने को लेकर भाजपा ने सौंपा ज्ञापन एसडीएम कार्यालय का भाजपा ने किया घेराव

नागरिकता देने और न देने का अधिकार भारत सरकार का होता है-भाजपा

नागरिकता संशोधन कानून लागू करने को लेकर भाजपा ने सौंपा ज्ञापन

एसडीएम कार्यालय का भाजपा ने किया घेराव 

अनूपपुर। प्रदीप मिश्रा - 8770089979

केन्द्र सरकार द्वारा नागरिकता संषोधन कानून बनाये जाने के बाद कांग्रेस इस मुद्दे पर पूरे देष की जनता को गुमराह करने का जो प्रयास कर रही है वह समाज के लिए घात है। इतना ही नहीं मध्यप्रदेष के मुख्यमंत्री भी अपने कर्तव्यों से विमुख हो गये है और इस कानून को लागू करने के बजाय कांग्रेस के स्टैण्ड पर चलने की बात कर रहे हैं। शायद वह भूल गये है उनकी भूमिका कांग्रेस कार्यकर्ता से अधिक राज्य के मुखिया की है। प्रदेष के अंदर नागरिकता संषोधन कानून लागू करने को लेकर मंगलवार के दिन भारतीय जनता पार्टी ने अनूपपुर इंदिरा तिराहे में आम सभा करने के उपरांत एसडीएम कार्यालय का घेराव करते हुए राज्यपाल के नाम एसडीएम कमलेष पुरी को ज्ञापन सौंपा।

कांग्रेस को वोट बैंक टूटने का भय


भाजपा पूर्व विधायक दिलीप जायसवाल और पूर्व जिला अध्यक्ष रामदास पुरी ने सभा को सम्बोधित करते हुए नागरिकता संषोधन बिल को लागू करने को लेकर कमलनाथ सरकार को चेतावनी दी कि देष को गुमराह करने की कोषिष न किया जाये। यह कानून देष में रहने वाले उन तमाम शरणर्थियों के लिए वरदान साबित होगा जो लंबे अर्से से नागरिकता के लिए संघर्ष कर रहे है। राष्ट्रपति से कानून को मंजूरी मिलने के बाद वह कानून सभी प्रदेषो में लागू होना चाहिए। मध्यप्रदेष सरकार वोट बैंक टूटने के भय से इस कानून को लागू करने से इंकार कर रही है। 

गुमराह कर रही है कांग्रेस

नागरिकता संषोधन कानून को लेकर आयोजित आमसभा को सम्बोधित करते हुए भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष आधाराम वैष्य ने कहा कि देष के मुसलमान को कांग्रेस गुमराह कर रही है इस कानून से देष के मुसलमानो को कोई प्रभाव नहीं पड़ना वाला है जो मुसलमान बाहर के देषो से आये है केवल उन्हे चिन्हित करके बाहर किया जायेगा,लेकिन  कांग्रेस देष में अराजकता पैदा करने के लिए इस तरह का महौल बना रही है। मध्यप्रदेश की कांग्रेस सरकार द्वारा नागरिकता संशोधन कानून को प्रदेश में लागू नहीं करने का निर्णय लिया गया है, जबकि उक्त कानून को संविधान की सातवीं अनुसूची के तहत सूचीबद्ध किया गया है, इसलिए इसे प्रदेश सरकार लागू करने से इंकार नहीं कर सकती है।

देश में दंगा फैला रही कांग्रेस


भाजपा जिला अध्यक्ष बृजेश गौतम ने कहा कि इस कानून के माध्यम से पड़ोसी देश पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से आए अल्पसंख्यक हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी एवं ईसाई धर्मावलंबियों के लिए भारतीय नागरिकता प्राप्त करने का रास्ता साफ हो गया है, जो धार्मिक प्रताड़ना और उत्पीड़न से तंग आकर अपनी इज्जत बचाने और सम्मानपूर्वक जीवनयापन करने के लिए भारत की ओर आशा भरी निगाहों से देख रहे थे। नागरिकता संशोधन कानून बनने से देश में जो वर्षों से शरणार्थी हैं उन्हें नागरिकता मिलगी और वे अपना जीवनयापन सम्मानजनक तरीके से कर सकें। लेकिन पीडि़त शरणार्थियों की राह में प्रदेश की कांग्रेस सरकार रोड़ा बनकर खड़ी हो रही है। सरकार का यह कदम शरणार्थी हिंदू, सिख, बौद्ध, ईसाई, जैन व पारसी विरोधी एवं तुष्टिकरण की राजनीति से प्रेरित होकर असंवैधानिक है। बृजेष गौतम ने कहा कि कांग्रेस की प्रियंका गांधी अनषन पर बैठती है और गुंडो का समर्थन करती है विष्वविद्यालय के अंदर पुलिस जब छापामार कर जांच करती है तो दंगा फैलाने वाली सामग्री बरामद होती है और विष्वविद्यालय में छात्रो की आड़ में गुंडे इस बिल के के विरोध में दंगा फैला रहे है। 

इनकी रही उपस्थिति

इस कार्यक्रम में भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष बृजेश गौतम, पूर्व जिला अध्यक्ष दिलीप जायसवाल, आधाराम वैष्य, रामदास पुरी, जिला महामंत्री भूपेन्द्र सिंह सेंगर, जिला उपाध्यक्ष अशोक लाल, जिला मीडिया प्रभारी राजेश सिंह,मनोज द्विवेदी, मंडल अध्यक्ष शिवरतन वर्मा, सिद्धार्थ त्रिपेदी, दिनेष राठौर, फुक्कू सोनी, पुष्पेन्द्र जैन, सुनील उपाध्याय, राजेश कलसा, प्रमोद सिंह मरावी, अंगद सिंह, विजय बहादुर सिंह, मुकेश पटेल भाजपा नेता रामअवध सिंह, अजय शुक्ला, प्रेमचन्द्र यादव,अभय पांडेय रामनारायण उरमलिया वेदप्रकाश द्विवेदी प्रभा पनाडि़या,आदिवासी विकास परिषद प्रदेश महामंत्री गुड़िया रौतेल महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष सुनीता सिंह  मंडल अध्यक्ष युवा मोर्चा भाजपा ग्रामीण अनूपपुर राजकमल गुप्ता  नरेन्द्र शुक्ला, मिंटू सिंह, हर्षवर्धन सिंह, मुनेष्वर पांडेय सुभाष मिश्रा  अक्षय पांडेय मंडल उपाध्यक्ष युवा मोर्चा अनूपपुर के अलावा भारी संख्या में भाजपा के कार्यकर्ता और पदाधिकारी उपस्थित रहे।

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com