-->

Breaking News

पंचायती काल से आवटिंत दुकान पर भाई ने किया जबरन कब्जा पीडित ने नगरपालिका अनूपपुर कोतवाली एसपी के पास की शिकायत

पंचायती काल से आवटिंत दुकान पर भाई ने किया जबरन कब्जा

पीडित ने नगरपालिका अनूपपुर कोतवाली एसपी के पास की शिकायत

अनूपपुर/प्रदीप मिश्रा -8770089979 

नगरपालिका अनूपपुर अन्तर्गत वार्ड क्रमांक 07 में स्थित एक दुकान इन दिनों विवाद का रूप ले चुका है कन्या स्क्ूल के पास सुनील जनरल स्टोर के सामने रमेष जायसवाल पिता घसीटे लाल जायसवाल जो कि 40 वर्षो से पंचायती काल से दुकान लीये हुये है जिसे नगरपालिका अनूपपुर ने आवटिंत किया है रमेष जायसवाल इन दिनों समस्या से जूझ रहे है अभी हाल ही में उनका एक्सीडेंट होने से दोनो पैर टूट चुके है व राड लगा हुआ है बैसाखी के सहारे चलते है उन्होने सोचा क्यों न बैठे बैठे कुछ काम करूं क्योकि पहले वो बस के ऐजेन्ट थे व उसी से अपना घर परिवार चलाते थे एक्सीडेंट होने के बाद चल नही पाने के कारण अपने आवटित दुकान में बैठकर अपना परिवार चलाने का निर्णय लिए जो की अब उन्हें भारी पडता दिखाई दे रहा है उनके सगे भाई जो कि धन संम्पदा से परिपूर्ण है उनके तीनों बेटों के पास होटल है लेकिन फिर भी रमेष जायसवाल की खुद की दुकान पर अब पहरा डाले हुये है रमेष जायसवाल ने बताया की मैने कुछ दिनों पहले ताला खोलने की बात कही तो मुझे मेरी दुकान ही नही दे रहे है मैंने उनको अपना भतीजा मानते हुऐ आॅटो पार्टस दुकान खोलने के लिए दिया था जो कि मेरे सगे भतीजे होने के नाते मैंने पैसा तक नही लिया मेरे साथ जब घटना घटी मैं अचल हो गया तब मैंने अपनी दुकान मांगी लेकिन मेरे को मेरी दुकान की ही चाबी नही दे रहे हे बता रहे हैं कि यह दुकान हमारी हो चुकी है रमेष जायसवाल ने अपनी आपबीती सुनाते हुए बताया की मैं एक प्रकरण में फंस गया था और बुढार जेल में था मेरे भाई द्वारा मुझसे जेल में मुलाकात के दौरान कहा की इस कागज में हस्ताक्षर कर दो व मेरे द्वारा कोरे कागज में हस्ताक्षर किया गया जिसे अब मेरे भाई ने ढाल बनाते हुए मुझे दुकान खाली करने की नसीहत दे रहे है यही नही मेरे भाई द्वारा मेरे जेल जाने पर जमानत में कोई राषि नही लगाई मेरी पत्नी ने अपने हाथ से भाई को पैसा दिया मेरे को मुलाकत में कहते है मैंने पैसा दिया रमेष जायसवाल ने न्याय व मदद की गुहार लगाते हुए दुकान दिये जाने की मांग की है

इनका कहना है

अगर ऐसा है तो नगरपालिका हमें सूचित करे हम फोर्स भेजेगें कार्यवाही करेगें
कोतवाली प्रभारी प्रफुल्ल राय

पंचायती काल से दुकान रमेष जायसवाल के नाम से आंवटित है जिसका किराया भी जमा करते है इनका पारिवारिक विवाद के कारण ऐसा हो रहा है
रमेश नापित सहायक राजस्व निरिक्षक नगरपालिका अनूपपुर

हमारा हिस्सा बटवारा नही हुआ है मैं अभी बाहर हूं सात दिन बाद आउंगा
महेश जायसवाल अनूपपुर

आपने जानकारी दी है दिखवाते है
किरणलता केरकट्टा एस.पी. अनूपपुर

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com