-->

Breaking News

08 साल की अबोध विक्षिप्त बालिका के साथ गलत काम करने वाले की जमानत याचिका हुई निरस्त अनूपपुर / संजीव मिश्रा विशेष न्यायालय (पॉक्सो) रवीन्द्र कुमार शर्मा के न्यायालय से आरोपी राजेश ताम्रकार उम्र 45 पिता हरिप्रसाद निवासी छुल्हा की जमानत याचिका न्यायालय ने निरस्त कर दी है। मीडिया प्रभारी राकेश पाण्डेय ने अभियोजन अधिकारी राजगौरव तिवारी के हवाले से बताया कि मामला थाना कोतमा के अ.क्र 246/20 धारा 363 ,376ंइए भादवि 03/04, 05/06 पॉक्सो एक्ट से सम्बंधित था जिसमे अबोध विक्षिप्त बालिका की माँ ने आरोपी उपरोक्त के विरुद्ध अपहरण कर लेने की सूचना देते हुए बतायी कि बालिका के घर पर न मिलने पर उसे घर वाले ढूढते रहे जो आरोपी के पास मिली जिसे घर लाकर देखने पर उसके गुप्तांग से खून बह रहा था जिसकी सूचना थाना कोतमा में प्राप्त होने पर अपराध दर्ज कर अनुसंधान किया गया आरोपी द्वारा प्रथम दृष्टया अपराध प्रमाणित पाने पर आरोपी को गिरफ्तार किया गया। आरोपी द्वारा जमानत आवेदन में यह लिया था आधारः- आरोपी द्वारा उक्त अपराध के सम्बन्ध में यह जमानत याचिका इस आधार पर प्रस्तुत की गई थी कि वह स्थानीय निवासी है कहीं फरार नही होगा प्रकरण के निराकरण में समय लगने कि पूर्ण संभावना है वह घर के एकमात्र कर्ता धरता है वह जमानत मिलने पर न्यायालय की सभी शर्तो का पालन करेगा इस लिए उसे जमानत का लाभ दिया जाए । अभियोजन ने इस आधार पर किया था विरोधः- उक्त सम्बन्ध में अभियोजन कि ओर से प्रस्तुत हुए विशेष लोक अभियोजन राजगौरव तिवारी द्वारा जमानत आवेदन पत्र का इस आधार पर विरोध किया गया कि अबोध व विक्षिप्त बालिका के साथ जघन्य प्रकृति का अपराध किया गया है जिसके लिए विधायिका ने 12 वर्ष से कम उम्र कि बालिका के साथ बलात्संग को गंभीर अपराध मानते हुए न्यूनतम 20 वर्ष व अधिकतम आजीवन कारावास जो शेष प्राकृत जीवन काल का होगा की सजा का प्रावधान किया है आरोपी को जमानत का लाभ दिए जाने पर वह साक्षी को प्रभावित कर सकता है व ऐसे गंभीर मामलो में जमानत दिए जाने पर समाज पर भी गलत सन्देश जाएगा। उभय पक्षों के तर्कों को सुनने के पश्चात् न्यायालय द्वारा अभियोजन के तर्कों से सहमत होते हुए आरोपी की जमानत याचिका अंतर्गत धारा 439 द.प्र स कि खारिज कर दिया।

 

 08 साल की अबोध विक्षिप्त बालिका के साथ गलत काम करने वाले की जमानत याचिका हुई निरस्त

अनूपपुर /प्रदीप मिश्रा -8770089979

विशेष न्यायालय (पॉक्सो) रवीन्द्र कुमार शर्मा के न्यायालय से आरोपी राजेश ताम्रकार उम्र 45 पिता हरिप्रसाद निवासी छुल्हा की जमानत याचिका न्यायालय ने निरस्त कर दी है।   मीडिया प्रभारी राकेश पाण्डेय ने अभियोजन अधिकारी राजगौरव तिवारी के हवाले से बताया कि मामला थाना कोतमा के अ.क्र 246/20 धारा 363 ,376ंइए भादवि 03/04, 05/06 पॉक्सो एक्ट से सम्बंधित था जिसमे अबोध विक्षिप्त बालिका की माँ ने आरोपी उपरोक्त के विरुद्ध अपहरण कर लेने की सूचना देते हुए बतायी कि बालिका के घर पर न मिलने पर उसे घर वाले ढूढते रहे जो आरोपी के पास मिली जिसे घर लाकर देखने पर उसके गुप्तांग से खून बह रहा था जिसकी सूचना थाना कोतमा में प्राप्त होने पर अपराध दर्ज कर अनुसंधान किया गया आरोपी द्वारा प्रथम दृष्टया अपराध प्रमाणित पाने पर आरोपी को गिरफ्तार किया गया।


आरोपी द्वारा जमानत आवेदन में यह लिया था आधारः-

 आरोपी द्वारा उक्त अपराध के सम्बन्ध में यह जमानत याचिका इस आधार पर प्रस्तुत की गई थी कि वह स्थानीय निवासी है कहीं फरार नही होगा प्रकरण के निराकरण में समय लगने कि पूर्ण संभावना है वह घर के एकमात्र कर्ता धरता है वह जमानत मिलने पर न्यायालय की सभी शर्तो का पालन करेगा इस लिए उसे जमानत का लाभ दिया जाए ।


अभियोजन ने इस आधार पर किया था विरोधः-

  उक्त सम्बन्ध में अभियोजन कि ओर से प्रस्तुत हुए विशेष लोक अभियोजन राजगौरव तिवारी द्वारा जमानत आवेदन पत्र का इस आधार पर विरोध किया गया कि अबोध व विक्षिप्त बालिका के साथ जघन्य प्रकृति का अपराध किया गया है जिसके लिए विधायिका ने 12 वर्ष से कम उम्र कि बालिका के साथ बलात्संग को गंभीर अपराध मानते हुए न्यूनतम 20 वर्ष व अधिकतम आजीवन कारावास जो शेष प्राकृत जीवन काल का होगा की सजा का प्रावधान किया है आरोपी को जमानत का लाभ दिए जाने पर वह साक्षी को प्रभावित कर सकता है व ऐसे गंभीर मामलो में जमानत दिए जाने पर समाज पर भी गलत सन्देश जाएगा। उभय पक्षों के तर्कों को सुनने के पश्चात् न्यायालय द्वारा अभियोजन के तर्कों से सहमत होते हुए आरोपी की जमानत याचिका अंतर्गत धारा 439 द.प्र स कि खारिज कर दिया।

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com