-->

Breaking News

राजस्व प्रकरणो के निराकरण की कलेक्टर ने की समीक्षा अविवादित नामांकन बटवारा के प्रकरण नही होने चाहिए लम्बित 31 मार्च तक 1 वर्ष से अधिक अवधि के लम्बित प्रकरणो का शत प्रतिशत निराकरण करें राजस्व वसूली के लक्ष्य प्राप्ति हेतु करें आवश्यक कार्यवाही

 राजस्व प्रकरणो के निराकरण की कलेक्टर ने की समीक्षा

अविवादित नामांकन बटवारा के प्रकरण नही होने चाहिए लम्बित

31 मार्च तक 1 वर्ष से अधिक अवधि के लम्बित प्रकरणो का शत प्रतिशत निराकरण करें

राजस्व वसूली के लक्ष्य प्राप्ति हेतु करें आवश्यक कार्यवाही

अनूपपुर / प्रदीप मिश्रा - 8770089979


कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने राजस्व अधिकारियों की समीक्षा बैठक में राजस्व प्रकरणों के शीघ्रातिशीघ्र निराकरण करने के निर्देश दिए। आपने कहा 31 मार्च तक 1 वर्ष से अधिक अवधि के समस्त प्रकरणो का शत प्रतिशत निराकरण हो जाना चाहिए। 2 वर्ष से अधिक अवधि से लम्बित प्रकरणो की समीक्षा पर यह पाया गया कि वर्तमान में 2 वर्ष से अधिक अवधि से लम्बित प्रकरणों की कुल संख्या 158 है। जिले में 5 वर्ष से अधिक अवधि का एक भी प्रकरण लम्बित नहीं है।   इस दौरान कलेक्टर ने निर्देश दिए कि सीमांकन अविवादित नामांतरण बटवारा के समस्त प्रकरणों का निर्धारित समय-सीमा में निराकरण सुनिश्चित करें। आपने कहा सीमांकन अविवादित नामांतरण बटवारा से सम्बंधित 6 माह से अधिक अवधि के एक भी प्रकरण लम्बित नहीं होने चाहिए इस हेतु सम्बंधित राजस्व अधिकारी आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करें। बैठक में अपर कलेक्टर सरोधन सिंह, समस्त एसडीएम, तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार उपस्थित थे। कलेक्टर ने राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिए कि सम्बंधित क्षेत्रों में विभिन्न विभागों के निर्माण कार्य हेतु प्राथमिकता के साथ भूमि आवंटन की कार्यवाही पूर्ण की जाय। आपके द्वारा सीएम हेल्पलाइन प्रकरणों की अनुभाग वार समीक्षा की गयी एवं आवश्यक निर्देश दिए गए। कलेक्टर ने कहा राजस्व वसूली के लक्ष्य अनुसार सम्बंधित अधिकारी डिमांड रेज करने एवं वसूली की कार्यवाही पूर्ण करें। लैंड रेवेन्यू एकाउंटिग सिस्टम एवं भू-राजस्व का वेबजीआईएस के माध्यम से भुगतान, रेवेन्यू एकाउंटिंग सिस्टम में भुगतान की कार्यवाही की समीक्षा के दौरान कलेक्टर द्वारा सभी राजस्व अधिकारियों को उक्त प्रक्रिया का प्रशिक्षण देने हेतु अधीक्षक भू अभिलेख को निर्देश दिए गए  इस दौरान कलेक्टर द्वारा लंबित सी.एम मॉनिट/सी.एस मॉनिट प्रकरणों, विधानसभा आश्वासन/अभ्यावेदन, लोक लेखा समिति की लंबित कंडिकाओं के पालन प्रतिवेदन की समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिए गए। आपके द्वारा गत वर्ष बाढ़ एवं ओला/पाला राशि वितरण, गिरदावरी, पीएम किसान सम्मान निधि योजना सहित अन्य महत्वपूर्ण विषयों की समीक्षा कर राजस्व अधिकारियों को निर्देशित किया गया।

No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com