-->

Breaking News

राजमाता जी ने लोकमाता बनकर जनसंघ और भाजपा को सींचा : विष्णुदत्त शर्मा | MP NEWS



प्रदेश ने प्रदेश कार्यालय में किया चित्र प्रदर्शनी का उद्घाटन
भोपाल। श्रद्धेय राजमाता जी राजसी वैभव छोड़कर लोकमाता बनीं और जनसेवा का मार्ग चुना। आदर्श और श्रद्धा की प्रतिमूर्ति श्रद्धेय राजमाता सिंधिया जी ने भारतीय जनसंघ और भारतीय जनता पार्टी को अपनी मेहनत और त्याग के बल पर सींचा है। आज भारतीय जनता पार्टी दुनिया का सबसे राजनीतिक संगठन बना है, तो उसमें श्रद्धेय राजमाता जी का योगदान अविस्मणीय है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने राजमाता जी की स्मृति में 100 रूपए का स्मृति सिक्का जारी कर भारतीय राजनीति में उनके योगदान को चिरस्थाई बनाने का काम किया है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सासंद श्री विष्णुदत्त शर्मा ने सोमवार को प्रदेश कार्यालय, पं. दीनदयाल परिसर में स्व. राजमाता जी के जन्मशताब्दी के समापन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही।    
 

स्वर्गीय राजमाता सिंधिया जी के जन्मशताब्दी के समापन अवसर पर सोमवार को प्रदेश भर में कार्यक्रम हुए। मुख्य कार्यक्रम दिल्ली में आयोजित हुआ जिसमें प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने राजमाता जी का पुण्य स्मरण करते हुए 100 रूपए का सिक्का जारी किया। ग्वालियर में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर एवं राज्यसभा सांसद श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने राजमाता जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम को संबोधित किया। भोपाल में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सासंद श्री विष्णुदत्त शर्मा ने प्रदेश कार्यालय, पं. दीनदयाल परिसर स्थित राजमाता जी की प्रतिमा पर श्रद्धासुमन अर्पित कर राजमाता जी के जीवन पर केंद्रीत चित्र प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। जिसके पश्चात् प्रदेश अध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं के साथ प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के कार्यक्रम का लाइव प्रसारण सुना।
राजमाता जी ने कभी भी सिद्धांतो से समझौता नहीं किया
 

प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने प्रदेश कार्यालय में महिला मोर्चा द्वारा आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि श्रद्धेय राजमाता सिंधिया जी अपने विचार और सिद्धांतों के प्रति हमेशा अडिग रहती थीं। तत्कालीन प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी ने आपातकाल लगाने को लेकर राजमाता जी को 20 सूत्रीय बातें मानने की बात कही थी, तो राजमाता जी ने उन्हें मना करते हुए जेल जाना स्वीकार किया था। राजमाता जी ने कभी भी अपने सिद्धांतों से समझौता नहीं किया। उन्होंने कहा कि श्रद्धेय राजमाता जी हमेशा कार्यकर्ताओं की चिंता करती थीं। संगठन कैसे आगे बढ़े यह विचार हमेशा उनके मन में रहते थे। उन्होंने कहा कि राजमाता जी ने कार्यकर्ताओं की एक पीढ़ी को पुष्पित और पल्लवित करने का काम किया।
राजमाता जी ने समाज के हर वर्ग की चिंता की
 

विष्णुदत्त शर्मा ने जन्मशताब्दी समारोह के समापन अवसर पर प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा 100 रूपए का सिक्का जारी किए जाने पर भारतीय जनता पार्टी की ओर से उनका धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री जी ने राजमाता जी के सम्मान में 100 रूपए का सिक्का और दूरदर्शन के माध्यम से राजमाता जी पर जो डॉक्यूमेंटरी जारी कर कार्यकर्ताओं का मान बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि राजमाता जी ने समाज के हर वर्ग के लिए काम किया। देश सेवा के लिए उनका योगदान कभी भुलाया नहीं जा सकता, वे हमेशा कार्यकर्ताओं के लिए प्रेरणा पुंज का काम करती हैं। कार्यक्रम में प्रदेश महामंत्री श्री भगवानदास सबनानी, जिला अध्यक्ष श्री सुमित पचौरी, श्रीमती सीमा सिंह, सुश्री सरिता देशपांडे, श्री अशोक सैनी, श्रीमती वंदना जाचक, श्रीमती हंसकुंवर राजपूत सहित पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे। 



No comments

सोशल मीडिया पर सर्वाधिक लोकप्रियता प्राप्त करते हुए एमपी ऑनलाइन न्यूज़ मप्र का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला रीजनल हिन्दी न्यूज पोर्टल बना हुआ है। अपने मजबूत नेटवर्क के अलावा मप्र के कई स्वतंत्र पत्रकार एवं जागरुक नागरिक भी एमपी ऑनलाइन न्यूज़ से सीधे जुड़े हुए हैं। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ एक ऐसा न्यूज पोर्टल है जो अपनी ही खबरों का खंडन भी आमंत्रित करता है एवं किसी भी विषय पर सभी पक्षों को सादर आमंत्रित करते हुए प्रमुखता के साथ प्रकाशित करता है। एमपी ऑनलाइन न्यूज़ की अपनी कोई समाचार नीति नहीं है। जो भी मप्र के हित में हो, प्रकाशन हेतु स्वीकार्य है। सूचनाएँ, समाचार, आरोप, प्रत्यारोप, लेख, विचार एवं हमारे संपादक से संपर्क करने के लिए कृपया मेल करें Email- editor@mponlinenews.com/ mponlinenews2013@gmail.com